नोएडा खबर

खबर सच के साथ

नोएडा की सीईओ ने सड़कों पर घूमकर देखी कचरे से भरी नालियां, दो जगह पर ठेकेदारों पर लगाई पेनल्टी

1 min read

नोएडा, 24 मार्च।

मुख्य कार्यपालक अधिकारी रितु माहेश्वरी   द्वारा नौएडा प्राधिकरण की टीम के साथ वर्क सर्किल 1, 2 एवं 5 के क्षेत्रान्तर्गत सिविल कार्यों का निरीक्षण किया गया। नौएडा क्षेत्र में चल रहे विकास कार्यों, सफाई, सौन्दर्यीकरण कार्यों की समीक्षा की गई तथा कार्यों में तीव्रता लाने एवं गुणवत्ता सम्बन्धी निर्देश दिये गये। जी-20 के दृष्टिगत कराये जा रहे कार्यों का निरीक्षण किया गया तथा निम्न निर्देश दिये गये:-

वर्क सर्किल – प्रथमः- सर्वप्रथम सैक्टर-14ए से चलकर उद्योग मार्ग का निरीक्षण किया गया, निरीक्षण के दौरान नोएडा ट्रैफिक सैल द्वारा निर्मित की गई सेण्ट्रल वर्ज की पेन्टिंग पुनः कराने के निर्देश दिये गये। साथ. ही इंडियन ऑयल पेट्रोल पम्प सैक्टर-14 की तरफ विलोपित कूड़ाघर का विकास कार्य कराने के

निर्देश दिये गये।

सैक्टर-1 में पी०डी०आई०एल० की दीवार एवं टक्साल फैक्टरी की दीवार को सही कराकर थीम पेन्टिंग कराने हेतु दोनों फर्मों के अधिकारियों के साथ बैठक करने के निर्देश दिये गये।

सैक्टर-2 के निरीक्षण के दौरान वेडिंग जोन के बोर्ड पर पोस्टर चिपका हुआ पाया गया. जिसको हटाने एवं पुन पेन्ट करने के निर्देश दिये गये एवं पिंक वेडिंग जोन के आसपास सफाई कराने के निर्देश दिये गये। साथ ही सैक्टर-2 में गत वर्षों में निर्मित की गई ड्रेन की वाल का प्लास्टर टूटा हुआ पाया गया, जिसकी मरम्मत कराकर ठीक कराने एवं प्लास्टर की गुणवत्ता की जाँच कराने के निर्देश दिये गये। औद्योगिक सैक्टर-1, 2, 3, 4 में नालियों की सफाई संतोषजनक नहीं पायी गई। नालियाँ कचरे से भरी हुई थी। सैक्टर-2 में नालियों पूरी तरह से कचरे से भरी पायी गई। इस सैक्टर के सफाई कर्मियों को हटाने, सम्बंधित ठेकेदार पर 5.00 लाख की पेनल्टी लगाने एवं क्षेत्र के सुपरवाईजर एवं इन्स्पेक्टर को प्रतिकूल प्रविष्टि दिये जाने हेतु निर्देशित किया गया।निरीक्षण के दौरान वर्क सर्किल प्रथम के क्षेत्र में गाड़ियाँ सड़कों पर पार्क की हुई पायी गई।

अन्डरग्राउण्ड एवं सर्फेस पार्किंग खाली पड़ी पायी गई पार्किंग व्यवस्था दुरुस्त नहीं पायी गई। पार्किंग व्यवस्था दुरुस्त नहीं पाये जाने के लिए वर्क सर्किल – 1 के वरिष्ठ प्रबन्धक एवं प्रबन्धक को प्रतिकूल प्रविष्टि दिये जाने के निर्देश दिये गये । सैक्टर-3 की पार्किंग के पास गाड़ियाँ खड़ी पायी गई, जिनको अभियान चलाकर टो किये जाने हेतु निर्देशित किया गया एवं पार्किंग में आ रही सीलन को सही कराकर पेन्ट आदि करने के निर्देश दिये गये।

निरीक्षण के दौरान सैक्टर-1 2 3 4 9 एवं 10 में सीवर के मैनहोल कवर रोड लेविल से नीचे पाये गये, जिससे यातायात में अवरोध होता है। सीवर मेनहोल को रोड लेविल में करने हेतु निर्देश दिये गये। सैक्टर 10 के निरीक्षण के दौरान कई स्थानों पर सी. एण्ड डी. वेस्ट पड़ा हुआ पाया गया, जिसको हटाये जाने एवं साईन बोर्ड की पुनः पेन्टिंग कराने एवं आवश्यकतानुसार नये साईन बोर्ड लगाने के निर्देश दिये गये।

सैक्टर-11 के निरीक्षण के दौरान राष्ट्रीय सहारा के सामने आवासीय सैक्टर की और बायीं लेन बंद पायी गई, जिसको खुलवाने हेतु सम्बंधित आर0डब्लू0ए0 के साथ बैठक करने के निर्देश दिये गये। सैक्टर-55, 56 के निरीक्षण के दौरान कई स्थानों पर निर्माणाधीन भूखण्डों के आगे सी. एण्ड डी. वेस्ट पड़ा हुआ पाया गया, जिसको हटवाने के निर्देश दिये गये। साथ ही बस शेल्टर को सही कराने तथा साइनेज बोर्ड आदि की मरम्मत कराने हेतु निर्देशित किया गया।

वर्क सर्किल – द्वितीय:-

वर्क सर्किल – द्वितीय के क्षेत्रान्तर्गत एडोब स्पाईस होते हुए अट्टीपीर, सैक्टर-21, सैक्टर-26 एवं 20 के मध्य मार्ग, सेक्टर-26 एवं 27 के मध्य मार्ग एवं सैक्टर-28, 29, 30 का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान सैक्टर-27 में निर्माणाधीन बड़े नाले की प्रगति बढ़ाने के निर्देश दिये गये। सैक्टर-18 में शीघ्र जी-20 सम्बंधी एवं अन्य अनुरक्षण कार्य तत्काल पूर्ण कराने के निर्देश दिये गये। साथ ही अट्टा मार्केट में परिलक्षित हो रहे अनाधिकृत अतिक्रमण को तुरन्त हटाने के निर्देश दिये गये। सैक्टर-16ए के सामने स्थित पुस्ता रोड जहाँ पर कूड़ा पडता है, उसको हमेशा के लिए खत्म कर एवं मिट्टी डालकर समतल कर सौंदर्यकरण करने के निर्देश दिये गये। सैक्टर-25 में एडोब के पास फुटपाथ टूटा हुआ पाया गया, जिसको तत्काल मरम्मत करने के निर्देश दिये गये।

वर्क सर्किल – पंचम:-

वर्क सर्किल पंचम के क्षेत्रान्तर्गत निरीक्षण के दौरान गिंझोड़ मार्ग पर सैक्टर 54 की तरफ बन रहे नाले तथा फुटपाथ के मध्य कच्चे भाग की पटरी को लेवलिंग करने के निर्देश दिये गये। साथ ही नाले के कार्य हेतु लेबर द्वारा बनायी गई हट्स को तत्काल हटाने हेतु निर्देशित किया गया। इसके अतिरिक्त गिंझोड़ मार्ग पर पूरी लम्बाई में रिसर्फेसिंग न कराकर आवश्यकतानुसार क्षतिग्रस्त भाग की रिसफेंसिंग का कार्य कराने हेतु निर्देशित किया गया। सेक्टर-22, 23 एवं 54 के टी-प्वाइंट पर बने ट्राईपोड़ पर लगी ग्रिल को तत्काल ठीक कराने के निर्देश दिये गये।

निरीक्षण के दौरान वर्क सर्किल 5 के क्षेत्र में भी नालियों की सफाई की स्थिति संतोषजनक नहीं पायी गई। सैक्टर-22 23 में नालियाँ कूड़े से नरी थी। सैक्टर-22, 23 के ठेकेदार पर 5.00 लाख की पेनल्टी सुपरवाईजर एवं इन्स्पेक्टर को प्रतिकूल प्रविष्टि दिये जाने के निर्देश दिये गये। आज के निरीक्षण के दौरान सभी तिराहों की साफ-सफाई एवं वृक्षारोपण का कार्य एक सप्ताह के अन्दर पूर्ण कराने हेतु नौएडा ट्रैफिक सैल, उद्यान विभाग व जन स्वास्थ्य को निर्देशित किया गया। विदित हो कि नौएडा प्राधिकरण द्वारा जी-20 बैठक की तैयारियों के दृष्टिगत मुख्य कार्यपालक अधिकारी महोदया द्वारा नौएडा शहर का भ्रमण किया गया तथा सम्बन्धित अधिकारियों को शहर को स्वच्छ बनाये रखने सौन्दर्यकृत रखने एवं भली-भांति अनुरक्षित किये जाने हेतु निर्देशित किया गया।

 6,911 total views,  2 views today

More Stories

Leave a Reply

Your email address will not be published.

साहित्य-संस्कृति

चर्चित खबरें

You may have missed

Copyright © Noidakhabar.com | All Rights Reserved. | Design by Brain Code Infotech.