नोएडा खबर

खबर सच के साथ

नोएडा विधानसभा के 10 साल, क्या बीजेपी के गढ़ में सेंध लगा पायेगा विपक्ष ?

1 min read

गौतमबुद्धनगर, 16 जनवरी।

गौतम बुद्ध नगर लोकसभा क्षेत्र की नोएडा विधानसभा का सृजन 2012 में हुआ था। 10 सालों से इस सीट पर बीजेपी का लगातार कब्जा है सभी राजनीतिक दलों ने बीजेपी के किले में सेंध लगाने की कोशिश की लेकिन कामयाब नहीं हो पाए उल्टे चेहरे अपना राजनीतिक दल बदलते रहे अगर एक चुनाव को जोड़ दिया जाए तो 2012 2014 2017 के बाद यह चौथा विधानसभा चुनाव है इस बार मुकाबला दिलचस्प है और वे सभी महारथी जो अब तक बीजेपी के खिलाफ लड़ते रहे थे इस समय बीजेपी के दल में प्रत्याशी का समर्थन कर रहे हैं जी हां यह दिलचस्प तथ्य आपको इस विशेष स्टोरी के जरिए में बता रहा हूं 2012 में लोकसभा का विधानसभा का चुनाव जब हुआ तब नोएडा विधानसभा सीट से डॉ महेश शर्मा पहली बार विधायक का चुनाव लड़े और जीते उस समय समाजवादी पार्टी से सुरेश चौधरी बहुजन समाज पार्टी से ओम दत्त शर्मा और कांग्रेसी डॉ बएस चौहान चुनाव मैदान में थे इस समय सुनील चौधरी सपा से 2022 का चुनाव लड़ रहे हैं बहुजन समाज पार्टी की ओम दत्त शर्मा समाजवादी पार्टी में है और टिकट का प्रयास कर रहे हैं कांग्रेस के प्रत्याशी रहे डॉ बीएस चौहान इस समय भारतीय जनता पार्टी में हैं और पंकज सिंह के साथ खड़े हैं 2014 के उपचुनाव में बसपा ने अपना कोई प्रत्याशी खड़ा नहीं किया था तब बीजेपी से विमला बाथम विधायक बनी थी और इस समय वह उत्तर प्रदेश महिला आयोग की अध्यक्ष हैं कांग्रेसी राजेंद्र अवाना और समाजवादी पार्टी से पूर्व विधायक गुड्डू पंडित की पत्नी काजल शर्मा चुनाव लड़ी थी तब वह हार गई थी औरंगाबाद हम इस चुनाव में विधायक चुने गए और विमला बाथम इस चुनाव में विधायक चुनी गई 2017 के विधानसभा चुनाव में सपा और कांग्रेस के कोटे में यह सीट समाजवादी पार्टी के और सुनील चौधरी दूसरी बार चुनाव लड़े तब भाजपा ने पंकज सिंह को पहली बार नोएडा विधानसभा क्षेत्र में उतारा हालांकि उस समय भी कई भाजपा के नेता दावेदार थे मगर पार्टी हाईकमान ने पंकज सिंह को ही टिकट दिया 2017 के चुनाव में भोजन समाज पार्टी से रविकांत मिश्रा चुनाव मैदान में थे 2022 के चुनाव के समय रविकांत मिश्रा जी भारतीय जनता पार्टी में है और सुनील चौधरी तीसरी बार समाजवादी पार्टी से नोएडा विधानसभा में चुनाव मैदान में उतरे हैं इस बार बहुजन समाज पार्टी से कृपाराम शर्मा को टिकट दिया गया है कृपाराम शर्मा जी के तीन दशक से कांग्रेसमें थे लेकिन उन्हें टिकट नहीं मिला इसलिए वह कांग्रेस छोड़कर बसपा में शामिल हो गए और पहली बार नोएडा विधानसभा से चुनाव लड़ रहे हैं कांग्रेस पार्टी से इस बार पंखुड़ी पाठक चुनाव मैदान में हैं पंखुड़ी पाठक पहले समाजवादी पार्टी में प्रवक्ता थी लेकिन दो साल पहले वह कांग्रेस में शामिल हुई और कांग्रेस की मीडिया पैनल लिस्ट में उत्तर प्रदेश के प्रभारी है पंखुड़ी पाठक के पति अनिल यादव भी पहले समाजवादी पार्टी में थे और अब वह कांग्रेसमें हैं अनिल यादव नोएडा के नवादा गांव के रहने वाले हैं इस दौरान जगदीश शर्मा ने भी नोएडा में सपा का टिकट पाने के लिए कांग्रेस छोड़ी। अतुल शर्मा ने भारतीय जनता पार्टी छोड़ी लेकिन टिकट सुनील चौधरी को ही मिला।   आम आदमी पार्टी ने भी पहली बार नोएडा सीट पर पंकज अवाना को दिया है।

अब समय बताएगा कि क्या भाजपा के किले में विपक्ष सेंध लगा पायेगा।

(नोएडा खबर के लिए विनोद शर्मा की विशेष रिपोर्ट )

 7,641 total views,  2 views today

More Stories

Leave a Reply

Your email address will not be published.

साहित्य-संस्कृति

चर्चित खबरें

You may have missed

Copyright © Noidakhabar.com | All Rights Reserved. | Design by Brain Code Infotech.