खबर सच के साथ

महिला पुलिस कर्मियों के बच्चों के लिए नोएडा के महिला पुलिस थाने में बना क्रेच शिशुगृह, अब तनावमुक्त होकर कर सकेंगी कार्य

1 min read

 

गौतमबुद्धनगर, 8 अप्रैल।

पुलिस उपायुक्त महिला एवं बाल सुरक्षा श्रीमती वृंदा शुक्ला एवं अपर पुलिस उपायुक्त महिला सुरक्षा अंकिता शर्मा के नेतृत्व में गौतमबुद्धनगर महिला थाना के परिसर में शुक्रवार को जेनपैक्ट संस्था के सहयोग से बने पुलिसकर्मियों के बच्चों के लिए क्रेच(शिशुगृह) का शुभारंभ किया गया। इस कार्यक्रम में पुलिस फैमिली वेलफेयर एसोसिएशन, गौतमबुद्धनगर की अध्यक्षा श्रीमती आकांक्षा सिंह एवं पुलिस कमिश्नर गौतमबुद्धनगर श्री आलोक सिंह द्वारा मुख्य अतिथि के रूप में शामिल होकर क्रेच(शिशुगृह) का उद्घाटन किया।

अब कमिश्नरेट गौतमबुद्धनगर में नगरीय थानों में कार्यरत पुलिसकर्मी ड्यूटी के समय अपने बच्चों को इस क्रेच में सुरक्षित रूप से छोड़ सकेंगे।
पुलिस मीडिया सेल के अनुसार पुलिस उपायुक्त महिला सुरक्षा श्रीमती वृंदा शुक्ला एवं अपर पुलिस उपायुक्त महिला सुरक्षा के नेतृत्व में महिला थाना के परिसर में पुलिसकर्मियों के बच्चों के लिए एक क्रेच(शिशुगृह) का उद्घाटन पुलिस फैमिली वेलफेयर एसोसिएशन, गौतमबुद्धनगर की अध्यक्षा श्रीमती आकांक्षा सिंह एवं पुलिस कमिश्नर गौतमबुद्धनगर श्री आलोक सिंह द्वारा किया गया। यह क्रेच(शिशुगृह) जेनपैक्ट संस्था के सहयोग से नगरीय थानों में नियुक्त उन पुलिसकर्मियों के बच्चों के लिए बनाया गया है जिनके घर पर बच्चों की देखभाल के लिए कोई परिजन मौजूद नहीं है एवं मजबूरी वश उन्हें अपने बच्चों को कार्यस्थल पर साथ ले जाना पड़ता था जिस कारण उन्हें और उनके बच्चों को बहुत सारी कठनाइयों का सामना करना पड़ रहा था। क्रेच(शिशुगृह) में बच्चों के मनोरंजन से लेकर उनकी पढ़ाई तक का पूरा ध्यान रखा गया है। यहां पर बच्चो के खेल सामग्री, उनके बैठने के लिए कुर्सी-टेबल, शिक्षण सामग्री एवं चित्रकारी, पेयजल, रसोई आदि सब व्यवस्था की गई है जिससे सभी बच्चों को एक अनुकूल वातावरण प्रदान करते हुए उनका मनोरंजन, खान-पान के साथ मानसिक विकास भी हो। यहां पर बच्चों की देखभाल के लिए केयरटेकर को भी नियुक्त किया गया है जो सभी बच्चों का ध्यान रखने के लिए विशेष रूप से सक्षम है।

पुलिस कमिश्नर गौतमबुद्धनगर श्री आलोक सिंह द्वारा अपने संबोधन में बताया गया कि कमिश्नरेट गौतमबुद्धनगर की इस अनूठी पहल के कारण विशेषकर महिला पुलिसकर्मी ना सिर्फ तनाव मुक्त होंगी, बल्कि उनके बच्चों को भी मनोरंजन के साथ कुछ सीखने का अवसर प्राप्त होगा। पूर्व में भी पुलिस लाइन सूरजपुर में इसी प्रकार का क्रेच(शिशुगृह) संचालित है जहां पर पुलिसकर्मियों द्वारा अपने बच्चों को छोड़ा जा रहा है, आगे अन्य क्रेच(शिशुगृह) को भी जल्द ही शुरू किया जाएगा जिससे ज्यादा से ज्यादा पुलिसकर्मी अपने छोटे बच्चो को एक अच्छा वातावरण प्रदान कर सके और स्वयं को भी तनाव मुक्त रख सके।

इस अवसर पर संयुक्त पुलिस आयुक्त श्री लव कुमार, अपर पुलिस आयुक्त मुख्यालय श्रीमती भारती सिंह, जेनपैक्ट संस्था की तरफ से श्रीमती विद्या श्रीनिवासन(ऑल इंडिया ग्लोबल हेड, जेनपैक्ट) व अन्य पुलिस अधिकारीगण उपस्थित रहे।

 6,441 total views,  4 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published.

साहित्य-संस्कृति

चर्चित खबरें

You may have missed

Copyright © Noidakhabar.com |All rights reserved. | Newsphere by AF themes.