नोएडा खबर

खबर सच के साथ

भाजपा नोएडा का तीन दिवसीय जिला प्रशिक्षण वर्ग शुरू, पहले दिन 5 सत्र

1 min read

नोएडा, 30 अप्रैल।

भाजपा नोएडा महानगर का ज़िला प्रशिक्षण वर्ग शनिवार से शुभारम्भ हो गया है। ये वर्ग 3 दिन तक चलेगा, जिसके चलते हर दिन अलग अलग सत्र हो रहे हैं जिसमें प्रदेश और क्षेत्र से अधिकारी अलग अलग सत्र लेते हैं। इन सत्रों में नॉएडा में रह रहे सभी प्रदेश, क्षेत्र, ज़िले, मोर्चों एवं प्रकोष्ठों के पदाधिकरी का प्रशिक्षण चल रहा है।

आज प्रथम दिन में 5 सत्र हुए रहे
पहला और उद्घाटन सत्र नॉएडा विधायक श्री पंकज सिंह जी का रहा।  सत्र था भाजपा इतिहास एवं विकास जिसमें भाजपा का इतिहास को उन्होंने सभी से साझा किया। उन्होंने बताया कि डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी ने पाकिस्तान और बांग्लादेश में हिंदू अल्पसंख्यकों पर कथित अत्याचार पर भारत के चुप रहने पर जवाहरलाल नेहरू मंत्रिमंडल से इस्तीफा दिया और 21 अक्टूबर 1951 को भारतीय जनसंघ की स्थापना की।

डॉ. मुखर्जी के नेतृत्व में जनसंघ ने कश्मीर को विशेषाधिकार देने का विरोध किया। उन्हें जेल में डाल दिया गया, जहां उनकी संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। 1977 में इंदिरा गांधी ने आपातकाल खत्म कर चुनाव कराने का फैसला किया तो जयप्रकाश नारायण के आह्वान पर सभी कांग्रेस-विरोधी दल एकजुट हुए और ‘जनता पार्टी’ बनाई। भारतीय जनसंघ का जनता पार्टी में विलय 1 मई 1977 को हुआ।
आज का दिन है जब प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ही की अगुवाई में भाजपा 2014 से पूर्ण बहुमत से सरकार बनाई और राष्ट्र निर्माण के लिए कार्यरत है। आज पूरे विश्व में भारत का नाम एक महाशक्ति की तरह लिया जा रहा है।

दूसरा सत्र हमारा विचार परिवार का रहा जिसको क्षेत्रीय मंत्री श्री बिजेंद्र नागर ने लिया। उन्होंने बताया 1925 में डॉ केशव बलिराम हेडगेवार ने नागपुर में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की स्थापना की। संघ का मुख्य उद्देश सांस्कृतिक व्यक्ति निर्माण करना और संगठित समाज के आधार पर देश को परम वैभव पर ले जाना है। इसके लिए संघ दैनिक शाखा पद्मावती पर रहा।
परिवार के विभिन्न संगठन इस प्रकार हैं इसमें अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद भारतीय मजदूर संघ भारतीय किसान संघ भारतीय जनता पार्टी विश्व हिंदू परिषद विद्या भारती वनवासी कल्याण आश्रम हिंदू जागरण मंच संस्कृत भारती संस्कार भारती स्वदेशी जागरण मंच आदि रहे।

तीसरा सत्र- 2014 के बाद आया युगांतकारी परिवर्तन पर रहा जिसको क्षेत्रीय उपाध्यक्ष श्री मनसिंघ गोस्वामी जी ने लिया उन्होंने बताया 1951 से 2014 तक तरह-तरह के कालखंड भारत में समाजवादी सरकार, कांग्रेस सरकार रहे। 2014 में भाजपा को पूर्ण निर्वाचित कर गठबंधन की राजनीति और अस्तित्व को समाप्त कर भाजपा को पूर्ण बहुमत से सरकार बनाई।

भारतीय राजनीति में सबसे बड़ी ३ घटनाएं हुई जिसमें भारत के संविधान से धारा 370 को निष्प्रभावी बना कर कश्मीर को भारत का अभिन्न अंग बनाना, राम जन्मभूमि पर भव्य मंदिर का निर्माण तथा भारत के नागरिकों को तीन तलाक तीन तलाक प्रथा से मुक्त किया गया आज भारतीय जनता पार्टी केवल भारत के विश्व की सबसे बड़ी पार्टी है।

चौथा सत्र बदली हुई परिस्थिति में भाजपा का दायतित्व और भाजपा के वैशिष्ट्य की समझ पर रहा जिसको नॉएडा ज़िला संगठन प्रभारी श्री बसंत त्यागी ने लिया।
उन्होंने बताया कि भारतीय जनता पार्टी एक विचारनिष्ठा पार्टी है, हम कार्यकर्ता आधारित जन संगठन है कार्यकर्ताओं को निर्माण एवं कार्य पद्धति का विकास हमारी विशेषताएं जाती है, हम कार्यकर्ता आधारित जन संगठन है कार्यकर्ताओं का निर्माण एवं कार्य पद्धति का विकास हमारी विशेषता है। भाजपा की राजनीति में भाजपा एकमात्र दल है जिसका विभाजन नहीं हुआ, देशभक्ति हमारे रक्त का रंग है हम वोट बैंक वादी राजनीति नहीं बल्कि राष्ट्रवादी राजनीति करते हैं सबका साथ सबका विकास एवं सबका विश्वास हमारी कार्य पद्धति एवं विचारधारा का निष्कर्ष है। अपने दायित्व को ठीक प्रकार समझकर बूथ स्तर तक के कार्यकर्ताओं को महान लक्ष्य की प्राप्ति हेतु सहायता देना हमारी जिम्मेदारी है, हमारा नेतृत्व हमारा संगठन एवं हमारा विचारधारा इन तीनों को मिलाकर हमें यह दायित्व निभाना होगा।

पाँचवा सत्र भारत की मुख्य विचारधारा- हमारी विचारधारा का रहा जिसको पंचायती राज मंत्री श्री भूपेन्द्र चौधरी जी ने लिया । उन्होंने बताया भारत की आजादी के बाद की राजनीति का वैचारिक अधिष्ठान मुख्यतः पाश्चात्य रहा है। आजादी के पूर्व का गांधी विचार लोकमान्य तिलक एवं श्री अरविंद के विचार जिनका अधिष्ठान भारतीय था उन्हें पूरी तरह भुला दिया गया यहां तक कि भारत माता की जय वंदे मातरम के उद्घोष भी भुला दिए गए। पंडित दीनदयाल उपाध्याय के नेतृत्व में यह विचार पाश्चात्य विचारों पर भारी पड़ने लगे, भारतीय जनसंघ कांग्रेस के बाद नंबर दो दल बन गया और पार्षद विचारधाराएं रक्षात्मक मुद्रा में आ गई है राजनीतिक रूप से साम्यवाद बहुत कमजोर हो गया है। लेकिन अकादमी जगत में वह आज भी प्रभावशाली है। एकात्म मानववाद ही एक विकल्प के रूप में उभर रहा है और भारत माता की जय, वंदे मातरम, आज भारतीय समाज के सामान्य उद्घोष बन चुके हैं चाहे कुछ राजनीतिक पार्टियां आज भी उनसे किनारा कर रही हैं पर भारतीय जनता पार्टी की विचारधारा यानी सांस्कृतिक, राष्ट्रवाद, आर्थिक लोकतंत्र, अंतोदय शिक्षा का भारतीय करण तथा पंच निष्ठा हैं। आज यह विचारधारा भारत की मुख्य विचारधारा बन गई है कोई भी राजनीतिक दल इसे चुनौती नहीं दे पा रहे तथा पाश्चात्य विचार धाराओं के स्रोत सूखने लगे हैं हमें भारतीयता के प्रभाव को कुछ और पेश करना होगा।

इस कार्यक्रम की अध्यक्षता महानगर अध्यक्ष मनोज गुप्ता ने करी और साथ ही सभी कार्यकर्ताओं को इस वर्ग को पूरी निष्ठा के साथ करने के लिए धन्यवाद दिया।
कार्यक्रम में प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य क्षेत्र मंत्री बिजेंद्र नागर, महामंत्री चांदीराम यादव, डिम्पल आनंद, उमेश त्यागी, गणेश जाटव, उपाध्यक्ष मनीष शर्मा, गिरजा सिंह, मुकेश शर्मा, युद्धवीर चौहान, महेश अवाना, धर्मेंद्र गुप्ता, गिरीश कोटनाला, राजीव त्यागी, मंत्री एसपी चमोली, अमरीश त्यागी, प्रमोद बहल, चमन अवाना, रवि यादव, कोषाध्यक्ष विनोद शर्मा, मीडिया प्रभारी तन्मय शंकर, मल्लिकेश्वर झा, शिवांश श्रीवास्तव, शारदा चतुर्वेदी, राम निवास यादव, लोकेश यादव, प्रशंसित मैत्रा, मोहित भंगेल, ऐसान खान, भूपेश चौधरी, हरीश वर्मा, शर्मा, वंदना शर्मा, रमेश शेखर, आदि लोग मौजूद रहे!

 57,596 total views,  2 views today

More Stories

Leave a Reply

Your email address will not be published.

साहित्य-संस्कृति

चर्चित खबरें

You may have missed

Copyright © Noidakhabar.com | All Rights Reserved. | Design by Brain Code Infotech.