नोएडा खबर

खबर सच के साथ

अक्षय तृतीया पर नोएडा के बाजारों में जबरदस्त रौनक, सोना खरीदने के लिए घर से निकले लोग

1 min read

– करुणा के कारण 2 साल तक अक्षय तृतीया पर बंद रहे थे बाजार इस बार रौनक-सुशील कुमार जैन

नोएडा, 3 मई।

बीते दो सालों से अक्षय तृतीया के त्यौहार पर कोरोना महामारी के चलते लगाये गए लॉकडाउन का असर रहा था. लेकिन इस वर्ष बाजार में अक्षय तृतीया पर जबरदस्त रौनक देखने को मिल रही है. जिसके कारण इस बार सर्राफा कारोबारियों ने जबरदस्त व्यापार किया।
सुशील कुमार जैन , अध्यक्ष, सेक्टर 18 मार्किट ऐसोसिएशन नोएडा एवं महासचिव नोएडा ज्वैलर्स वैलफेयर ऐसोसिएशन ने कहा कि इस साल अक्षय तृतीया आज 3 मई के दिन मंगलवार को मनाया गया। हिंदू मान्यताओं के अनुसार यह दिन बहुत शुभ माना जाता है. जैसा कि इसके नाम से ही पता चलता है कि अक्षय का मतलब है, जिसका कभी क्षय न हो, जो कभी खत्म न हो, जिसमें कमी न हो. मान्यताओं के अनुसार, अक्षय तृतीया तिथि को ही सतयुग और त्रेतायुग का प्रारंभ हुआ था, द्वापर युग का अंत हुआ था और अक्षय तृतीया को ही कलयुग का प्रारंभ हुआ था. इस लिए इसे युगादि तिथि भी कहा जाता है. इस दिन किसी भी मुहूर्त में  विवाह, सगाई, मुंडन आदि​ शुभ कार्य किए जाते हैं. ऐसा माना जाता है कि अक्षय तृतीया के दिन किए गए काम कई गुणा फल प्रदान करते है। इस दिन सोना खरीदने का खास महत्व है.
सुख-समृद्धि का प्रतीक अक्षय तृतीया का त्यौहार तीन मई को पूरी श्रद्धा के साथ मनाया गया । इस दिन किया गया कोई भी कार्य फलदायी होता है। इसे अक्षय तीज या वैशाख तीज भी कहते हैं। इस अवसर पर ग्राहको ने आभूषणों की जमकर खरीदारी की है।
सुशील कुमार जैन ने कहा कि अक्षय तृतीया पर होने वाली शादियों के लिए नोएडा के बाजारों में आज खुलकर खरीदारी हो रही है। चूंकि, इस दिन सोना खरीदना शुभ माना जाता है ऐसे में उम्मीद है कि आम दिनों की अपेक्षा सर्राफा बाजार में बहुत अच्छी बिक्री हो रही है।

मनोहर लाल सर्राफ एंड संस के सुधीर सिंघल, (सलाहकार सेक्टर 18 मार्किट ऐसोसिएशन नोएडा एवं चेयरमैन नोएडा ज्वेलर्स वैलफेयर ऐसोसिएशन ) ने कहा कि इस त्योहार को देखते हुए अक्षय तृतीय पर ग्राहकों को जेवरों के प्रति अलग रुचि होती है। शादियों की तैयारी में भी ग्राहक आभूषण एवं अन्य सामान खरीदते हैं। इस साल पहले के मुकाबले कई गुना ग्राहक खरीदारी करने आ रहे है।

सुशील कुमार जैन ने कहा कि अक्षय तृतीया के अवसर पर लोगो का मोह सोने के प्रति ज्यादा बड़ा है।इससे सोने की मांग बढ़ जाती है। इस दिन खरीदारी को ग्राहक बेहद शुभ मानते हैं। वैसे तो सभी दिन उनके लिए शुभ ही होता है। अक्षय तृतीया का महत्व अलग होता है।

श्री राम ज्वेलर्स के राजेन्द्र वर्मा ( अध्यक्ष, नोएडा ज्वेलर्स वैलफेयर ऐसोसिएशन) ने कहा कि अक्षय तृतिया पर बाजार मे उत्साह का माहोल है।लोग कोरोना काल को भूल कर सोने मे निवेष कर रहे है। लोगो मे इस बार ज्यादा उत्साह का माहौल है।
सुशील कुमार जैन ने  कहा की दो वर्ष के अंतराल के बाद आज नोएडा में सोने चांदी का अब तक का सबसे अच्छा व्यापार होने के आसार है.
सुशील कुमार जैन ने कहा कि तीन वर्ष पहले 2019 में अक्षय तृतीया के मौके पर सोने और चांदी के भाव में ज्यादा अंतर नहीं था. सोना तब 32,700 रुपये प्रति 10 ग्राम तो चांदी 38,350 रुपये प्रति किलो मिल रहा था. लेकिन इस अक्षय तृतीया पर सोना 53 हजार रुपये प्रति 10 ग्राम तो चांदी 66,600 रुपये प्रति किलो के के करीब मिल रहा है. साल 2020 और 2021 में कोरोना संकट के चलते अक्षय तृतीया पर देश भर के सर्राफा दुकानें नहीं खुली थी.
2020 और 2021 लगातार दो साल लॉकडाउन में अक्षय तृतीया का त्योहार आने के चलते देश के ज्वेलरी व्यापार की कमर टूट गई थी लेकिन 2022 में देश कोरोना महामारी से उबर चुका है तो देश भर के ज्वेलर्स मार्केट में ग्राहकों में बहुत उत्साह देखा जा रहा है।

 12,124 total views,  2 views today

More Stories

Leave a Reply

Your email address will not be published.

साहित्य-संस्कृति

चर्चित खबरें

You may have missed

Copyright © Noidakhabar.com | All Rights Reserved. | Design by Brain Code Infotech.