नोएडा खबर

खबर सच के साथ

नोएडा प्राधिकरण का कोंडली अंडरपास 30 जून तक, एडवांट अंडरपास 31 जुलाई तक शुरू होगा, पीजीएम ने किया दौरा

1 min read

नोएडा, 9 जून

नौएडा प्राधिकरण के पी.जी.एम. श्री राजीव त्यागी द्वारा नौएडा प्राधिकरण की विभिन्न प्रगतिरत महत्वपूर्ण परियोजनाओं के स्थल का गुरुवार को भ्रमण किया गया था। परियोजनाओं के अन्तर्गत चल रहे कार्यों का निरीक्षण किया।

उल्लेखनीय है कि शासन द्वारा विभिन्न परियोजनाओं को 100 दिनों में एवं छः माह में पूर्ण किये जाने हेतु लक्ष्य निर्धारित किये गये हैं, जिनमें से कुछ परियोजनाओं को इस माह में पूर्ण किये जाने का लक्ष्य है। तद्नुसार ही प्राधिकरण के पी. जी. एम. श्री राजीव त्यागी परियोजनाओं को गति प्रदान करने के दृष्टिगत स्वयं कार्यस्थलों का नियमित रूप से निरीक्षण किया गया जा रहा है।

इसी कड़ी में आज नौएडा-ग्रेटर नौएडा एक्सप्रेस-वे पर एडवान्ट टावर एवं कोण्डली ग्राम के समीप निर्माणाधीन अण्डरपास एवं सैक्टर-168 में निर्माणाधीन एस.टी.पी. का भ्रमण किया गया।

अण्डरपासों के निरीक्षण के दौरान कार्यस्थल पर सम्बन्धित वर्क सर्किल 10 के वरिष्ठ प्रबन्धक श्री के0वी0 सिंह एवं जल बाह्य संस्था के वरिष्ठ प्रबन्धक श्री राकेश कुमार अपने-अपने अधीनस्थ स्टाफ, प्रबन्धकों, सहायक प्रबन्धकों के साथ उपस्थित थे साथ ही परियोजना के संविदाकार एवं परामर्शदाता भी कार्यस्थल पर उपस्थित थे।

नौएडा-ग्रेटर नौएडा एक्सप्रेस-वे के चैनेज 19.400 पर ग्राम कोण्डली के समीप निर्माणाधीन अण्डरपास के बारे में सम्बन्धित द्वारा अवगत कराया गया कि वर्तमान में परियोजना का 95 प्रतिशत कार्य पूर्ण हो चुका है। परियोजना के अन्तर्गत दोनों बैरल की बॉक्स पुशिंग पूर्ण हो चुकी है तथा 1 बॉक्स की इन सीटू कास्टिंग की जा रही है। अन्य सभी कार्य पूर्ण हैं मात्र फिनिशिंग का कार्य प्रगतिरत है। परिय उक्त अण्डरपास निर्धारित लक्ष्य अर्थात 30 जून तक पूर्ण किये जाने का लक्ष्य है। परियोजना की वर्तमान प्रगति से परिलक्षित हो रहा है कि परियोजना निर्धारित लक्ष्य के अन्तर्गत पूर्ण कर ली जायेगी।

रु044.90 करोड़ की लागत से निर्माणाधीन उक्त 785 मी0 4 लेन के कोण्डली अण्डरपास के निर्माण के उपरान्त सैक्टर-150, 149, 148, 153, 151 व 152 के निवासियों के साथ-साथ इस क्षेत्र सन्निकट ग्रामों यथा कोण्डली, गढ़ी समस्तीपुर, मोमनाथल, शफीपुर के ग्रामवासियों एवं प्रस्तावित 75.00 मी0 चौड़ी सड़क पर आवागमन में काफी सुविधा प्राप्त होगी।

इसके अतिरिक्त एक्सप्रेस-वे के चैनेज 10.300 किमी0 पर एडवान्ट टावर के समीप निर्माणाधीन अण्डरपास स्थल के निरीक्षण में संज्ञानित हुआ कि अण्डरपास के रैम्प वाले भाग में भरी गई मिट्टी को हटाने उपरान्त पुनः बॉक्स पुशिंग का कार्य प्रारम्भ कर दिया गया है। बैरल नं0-1 की बॉक्स पुशिंग का कार्य जो कि प्रगतिरत हैं, केवल 2 मी० अवशेष है। इसके उपरान्त बैरल नं0-2 की बॉक्स पुशिंग का कार्य किया जायेगा, जिसमें लगभग 44 मी० की पुशिंग अवशेष है। अण्डरपास में दोनों ओर एप्रोच रोड / रैम्प 85 प्रतिशत पूर्ण कर लिया गया है। सम्प रूम एवं रिटेनिंग वॉल का निर्माण प्रगतिरत पाया गया। परियोजना की कुल प्रगति 82 प्रतिशत अवगत कराई गई। परियोजना 31 जुलाई 2022 तक पूर्ण किये जाने का लक्ष्य है, जिसको समयान्तर्गत पूर्ण कराये जाने हेतु निर्देशित किया गया।

इस अण्डरपास के निर्माण से सैक्टर- 135, 136, 137, 141, 142, 167 व 168 के निवासियों के साथ-साथ इस क्षेत्र के संन्निकट ग्रामों यथा गढी शहदरा, वाजीदपुर, मंगरौली, छपरौली आदि के ग्रामवासियों को भी आवागमन में काफी सुविधा प्राप्त होगी तथा एक्सप्रेस-वे के दोनों तरफ स्थित सैक्टरों को बेहतर कनेक्टिविटी प्राप्त होगी।

● अण्डरपास की लम्बाई 630 मी0 है तथा यह 4 लेन का होगा, जिसकी कुल लागत रु0 4.87 करोड है।

वर्क सर्किल – 10 के वरिष्ठ प्रबन्धक को निर्देश दिये गये कि नौएडा ट्रैफिक सैल (नौएडा प्राधिकरण का यातायात विभाग) से समन्वय किया जाये, ताकि वे यातायात पुलिस विभाग से सम्पर्क कर एक्सप्रेस-वे पर ट्रैफिक का सुचारू रूप से डायवर्जन / संचालन कर सकें, जिससे कि निर्माणाधीन उक्त परियोजनाओं के कारण एक्सप्रेस-वे पर यातायात बाधित न हो और जनमानस को असुविधा का सामना न करना पड़े।

उपरोक्त अण्डरपासों के अतिरिक्त जल-बाह्य संस्था के अन्तर्गत सैक्टर-168 में निर्माणाधीन एस.टी.पी. के निरीक्षण के दौरान निम्न तथ्य संज्ञान में आये –

• आर.एस.पी.एस. का सिविल कार्य 97 प्रतिशत पूर्ण ।

प्राइमरी ट्रीटमेन्ट यूनिट की फिनिशिंग का कार्य प्रगतिरत ।

• एस.बी.आर बेसिन का कार्य 96 प्रतिशत पूर्ण ।

फाईबर डिस्क फिल्टर का ग्राउण्ड लेविल से नीचे का कार्य पूर्ण तथा फिनिशिंग प्रगतिरत है।

स्लज होल्डिंग एवं सैन्ट्रीफ्यूज स्लज थिकनर का सिविल कार्य 90 प्रतिशत पूर्ण तथा फिनिशिंग प्रगतिरत है।• सी.सी.टी. का सिविल कार्य 99 प्रतिशत पूर्ण। एडमिन बिल्डिंग, स्टाफ क्वार्टर पूर्ण एवं सबस्टेशन का कार्य 90 प्रतिशत पूर्ण एवं फिनिशिंग प्रगतिरत है।

रोड का निर्माण प्रगतिरत है।

• मैकेनिकल कार्य में डिकेन्टर, एयर ब्लोअर एवं एम.एस. एयर लाईन पाईप का इंस्टॉलेशन एवं बिछाने का कार्य प्रगतिरत है।

उक्त अण्डरपास को अनुबंध के अनुसार 30 सितम्बर तक पूर्ण किये जाने का लक्ष्य है, परन्तु नियमित पर्यवेक्षण एवं कुशलपूर्वक क्रियान्वित कराने से उक्त परियोजना निर्धारित समय से तीन माह पहले पूर्ण किये जाने की सम्भावना है, जिससे जनमानस को तीन माह पूर्व उक्त योजना का लाभ मिलेगा।

सम्बन्धित वरिष्ठ प्रबन्धक एवं संविदाकार को निर्देशित किया गया कि प्रगतिरत फिनिशिंग कार्यों को शीघ्रातिशीघ्र गुणवत्तापरक ढंग से पूर्ण कराया जाये, ताकि परियोजना को 30 जून से पहले पूर्ण करके जनमानस को समर्पित किया जा सके।

उल्लेखनीय है कि उक्त एस.टी.पी. का निर्माण, एस. बी. आर. तकनीक पर रु० 143.58 करोड़ की लागत से कराया जा रहा है, जिसकी क्षमता 100 एम0एल0डी0 है। इस एस.टी.पी. के निर्माण के उपरान्त नौएडा की सीवेज शोधन क्षमता निश्चित रूप से और अधिक सुदृढ़ होगी साथ ही नौएडा के सीवेज डिस्ट्रिक्ट-डी के कुल 91 सैक्टरों की आबादी लाभान्वित होगी।

 4,986 total views,  2 views today

More Stories

Leave a Reply

Your email address will not be published.

साहित्य-संस्कृति

चर्चित खबरें

You may have missed

Copyright © Noidakhabar.com | All Rights Reserved. | Design by Brain Code Infotech.