नोएडा खबर

खबर सच के साथ

ब्रेकिंग न्यूज़ -नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट शिलान्यास के लिए तैयार, अब मल्टी मॉडल कनेक्टिविटी पर फोकस

1 min read

नोएडा/जेवर, 17 अक्टूबर।

जेवर में बन रहे नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट का निर्माण कार्य 1095 दिन में पूरा करने का एग्रीमेंट एक अक्टूबर 2021 से शुरू हो गया है, जिसकी अवधि 29 सितंबर 2024 में पूरी होगी। एक हवाई पट्टी तैयार हो जाएगी और पहली उडाने एक अक्टूबर 2024 से पहले या तब तक शुरू हो जाएगी। इसको लेकर नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट की नोडल एजेंसी ने पूरी तैयारी की है। इस समय चारदीवारी बनाने का काम शुरू हो चुका है। इसका शिलान्यास अब कभी भी हो सकता है। नोएडा इंटरनेशनल एय़रपोर्ट से जुड़ी एजेंसी ने राज्य सरकार को लिखित में यह सूचना दे दी है कि प्रधानमंत्री से समय मिलते ही इसका  औपचारिक रूप से शिलान्यास करा लिया जाए।
नोएडा खबर डॉट काम से एक्सक्लूसिव बातचीत में नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के नोडल अफसर शैलेंद्र भाटिया ने बताया कि अब हमारी तैयारी एयरपोर्ट को चारों तरफ से मल्टीमॉडल कनेक्टिविटी देने की है। इसी कड़ी में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के समक्ष एक प्रेजेंटेशन रखा गया। इंटरनेशनल एयरपोर्ट होने के कारण इसकी सडक, रेल, मेट्रो और हाईस्पीड रेल के साथ जोड़ने की योजना तैयार कर ली गई है। उन्होंने जानकारी दी है कि हाईस्पीड रेल जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट में अंडरग्राउंड रूप से कनेक्ट होगी। इसका स्टेशन अंडरग्राउंड होगा।
ऐसे कनेक्ट होगा सड़क मार्ग से
नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के नोडल अफसर शैलेंद्र भाटिया के अनुसार मल्टी मॉडल कनेक्टिविटी के तहत एयरपोर्ट चारों तरफ से सड़क मार्ग से जोड़ने की पहल शुरू हो गई है। सबसे अहम बात यह है कि यमुना एक्सप्रेस वे को सीधे एयरपोर्ट से जोड़ने के लिए जीरो पॉइंट से 32 किलोमीटर की दूरी पर एक इंटरचेंज बनेगा। इससे आगरा की तरफ से आने वाले लोग एयरपोर्ट जा सकेंगे। इसके अलावा जीरो पॉइंट से पांच किलोमीटर आगे ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस वे पर इंटरचेंज बनाया जाना है। यह इंटरचेंज सेक्टर 17 के पास होगा। एक्सप्रेस वे को एयरपोर्ट तक जोड़ने वाली सड़क लगभग सौ मीटर चौडी होगी और इसके साथ ही 60 मीटर की सर्विस रोड होगी। कार्गो के लिए ग्रेटर नोएडा से चलने वाली 130 मीटर सड़क को रखा जाएगा। खुर्जा-बुलंदशहर मार्ग को पूर्वी दिशा से एयरपोर्ट से कनेक्ट करने की योजना बनाई गई है। यह सड़क लगभग 24 या इससे ज्यादा मीटर चौड़ी होगी। दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस वे को नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट से कनेक्ट करने के लिए बल्लभगढ़ तक एक नई सड़क का निर्माण किया जाएगा। यह कुल 31 किलोमीटर लंबी सड़क होगी। इसमें 24 किलोमीटर का निर्माण हरियाणा में और सात किलोमीटर का निर्माण यूपी में होगा। इसके लिए राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ने तैयारी शुरू कर दी है।
मेट्रो की कनेक्टिविटी
परी चौक से जेवर तक लगभग 35 किलोमीटर लंबे रूट पर सिर्फ पांच स्टेशन होंगे। पहले यह संख्या ज्यादा थी मगर ज्यादा स्टेशनों के कारण टाइम ज्यादा लग सकता है इस कारण इनकी संख्या पांच की गई है। इसी तरह से परीचौक से शिवाजी स्टेडियम तक की मेट्रो को कनेक्ट करने के लिए प्लान तैयार किया जा रहा है। शिवाजी स्टेडियम की मेट्रो पहले से ही इंटरनेशनल एयरपोर्ट से जुड़ी हुई है।
रेलवे और हाई स्पीड रेल
नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के नोडल अफसर ने बताया कि बोडाकी  में मॉडर्न रेलवे स्टेशन होगा। यहीं पर मल्टी मॉडल ट्रांसपोर्ट होगा। यह मेट्रो, बस, रेल से जुड़ेगा। इस स्टेशन के बन जाने के बाद एनसीआर के यात्रियों को अपने वाहनों से दिल्ली जाने की जरूरत नहींं होगी। वे यहीं से सीधे एयरपोर्ट या मेट्रो में जा सकेंगे। इससे निजी वाहनों की संख्या में कमी आएगी। यह पर्यावरण के नजरिए से भी बेहतर होगा। हाईस्पीड रेल की डीपीआर फाइनल हो चुकी है। दिल्ली में कालेखां सराय पर पहला स्टेशन होगा। इसके बाद नोएडा के सेक्टर 148 और तीसरा स्टेशन जेवर में नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट में रनवे के नीचे होगा। इस एयरपोर्ट की क्षमता 12 मिलियन होगी।
(नोएडाखबर डॉटकॉम के लिए विनोद शर्मा की विशेष रिपोर्ट  )

 3,436 total views,  2 views today

More Stories

Leave a Reply

Your email address will not be published.

साहित्य-संस्कृति

चर्चित खबरें

You may have missed

Copyright © Noidakhabar.com | All Rights Reserved. | Design by Brain Code Infotech.