नोएडा खबर

खबर सच के साथ

–ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने शुक्रवार को आरएफपी निकाला

–आरएफपी के लिए आवेदन की अंतिम तिथि 29 जुलाई

–ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ ने की समीक्षा बैठक

ग्रेटर नोएडा, 16 जुलाई।

ग्रेटर नोएडा और ग्रेटर नोएडा वेस्ट में अगले 1 साल में 100 आधुनिक सुविधाओं से लैस बस स्टॉप तैयार हो जाएंगे। प्राधिकरण ने इस योजना को धरातल पर लाने के लिए शुक्रवार को आरएफपी निकाल दिए हैं। इस योजना में आवेदन की अंतिम तिथि 29 जुलाई है। 01 अगस्त को इसकी तकनीकी बिड खुलेगी। प्राधिकरण के सीईओ सुरेन्द्र सिंह ने शुक्रवार को इन परियोजनाओं की ऑनलाइन समीक्षा की और सभी को समय से पूरा करने के निर्देश दिए।

ग्रेटर नोएडा में वर्तमान समय में 75 बस स्टॉप बने हुए हैं। इनको सौंदर्यीकृत किया जाना है और ग्रेटर नोएडा वेस्ट में 25 नए बस स्टॉप बनने हैं। इन सभी बस स्टॉपों को प्राधिकरण नए ढंग से और आधुनिक सुविधाओं से लैस करना चाह रहा है। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ व मेरठ मंडलायुक्त सुरेन्द्र सिंह के निर्देश पर शुक्रवार को इस प्रोजेक्ट का आरएफपी (रिक्वेस्ट फॉर प्रपोजल) अपलोड कर दिया गया है। इच्छुक कंपनियां ई-पोर्टल के जरिए इस परियोजना के आरएफपी के लिए आवेदन कर सकती हैं। इसके लिए आवेदन करने की अंतिम तिथि 29 जुलाई है। इससे पहले 22 जुलाई को प्री बिड मीटिंग होगी। 01 अगस्त को इसकी तकनाकी बिड खुलेगी। ये सभी बस स्टॉप बीओटी के आधार पर बनाए जाएंगे। इनको विकसित करने वाली कंपनी को 15 साल के लिए विज्ञापन का अधिकार होगा। इससे होने वाली आमदनी का कुछ हिस्सा ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण को भी मिलेगा। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ सुरेन्द्र सिंह ने शुक्रवार को प्रोजेक्ट व अन्य विभागों की ऑनलाइन समीक्षा की, जिसमें सीईओ ने टेंडर प्रक्रिया को शीघ्र पूरा कर बस स्टॉपों को शीघ्र तैयार कराने के निर्देश दिए। इन बस स्टॉपों को तैयार करने के लिए एक साल का समय तय किया गया है।

 

आधुनिक सुविधाओं से लैस होंगे बस स्टॉप

ये बस स्टॉप आधुनिक सुविधाओं से लैस होंगे। इन बस स्टॉपों पर डिस्प्ले बोर्ड लगाये जाएंगे, जिनमें एक तरफ बसों के आने-जाने का ब्योरा होगा तो दूसरी तरफ डिस्प्ले बोर्ड के बैक साइड में प्रदेश के सभी 75 जिलों की खास बातें उकेरी जाएंगी। मसलन डिस्प्ले बोर्ड पर मुरादाबाद के पीतल उद्योग, कन्नौज के इत्र, फिरोजाबाद की चूड़ियां आदि जानकारी दी जाएगी। किस जिले में पर्यटन के प्रमुख स्थल कौन-कौन से हैं, इसका भी उल्लेख होगा। इन बस स्टॉपों पर यात्रियों के लिए कई और सुविधाएं दी जाएंगी। जैसे सभी बस स्टॉपों पर मोबाइल चार्जिंग प्वाइंट बनाए जाएंगे । प्रत्येक बस स्टॉपों के पास 10 टू व्हीलर्स के लिए पार्किंग का इंतजाम रहेगा, जिनमें तीन चार्जिंग प्वाइंट बनाए जाएंगे। हर बस स्टॉपों पर इंस्ट्रूमेंटल म्यूजिक की धुन सुनाई देगी, जिसमें थोड़ी-थोड़ी देर पर स्वच्छता, जल संरक्षण आदि सामाजिक मुद्दों पर संदेश भी आते रहेंगे। इससे बसों का इंतजार कर रहे यात्रियों को बोरियत नहीं होगी। बस स्टॉपों के पास ही क्योस्क भी लगाए जाएंगे, जिससे यात्रियों को खाने-पीने के सामान भी मिल सकेंगे। इन स्टॉपों पर शौचालय की भी व्यवस्था होगी। हैंगिंग फ्लावर भी यात्रियों को सुकून के पल देंगे।

अंडरपास, खेल ग्राउंड व सामुदायिक केंद्रों के निर्माण की भी समीक्षा

शुक्रवार को सीईओ सुरेन्द्र सिंह ने समीक्षा बैठक में गौड़ चौक पर अंडरपास, गांवों में खेलकूद के मैदान, सेक्टरों व गांवों में सामुदायिक केंद्रों व बरातघरों का निर्माण, समार्ट विलेज, एलईएडी स्ट्रीट लाइट आदि की भी समीक्षा की। इन प्रोजेक्टों को समय से पूरा करने के निर्देश दिए। लापरवाही बरतने पर कार्रवाई की चेतावनी दी है। ऑनलाइन समीक्षा बैठक में एसीईओ अदिति सिंह, एसीईओ दीप चंद्र, एसीईओ प्रेरणा शर्मा, एसीईओ अमनदीप डुली, ओएसडी सचिन कुमार सिंह, जीएम प्रोजेक्ट एके अरोड़ा, डीजीएम सलिल यादव आदि अधिकारीगण मौजूद रहे।

-सभी स्मार्ट विलेज में कार्यों का जायजा लेंगे एसीईओ

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ सुरेन्द्र सिंह ने जिन गांवों को स्मार्ट विलेज के रूप में विकसित करने का काम चल रहा है, उन गांवों में जाकर कार्यों का जायजा लेने के लिए सभी एसीईओ की ड्यूटी लगाई है। वे मौके पर जाकर इन गांवों का निरीक्षण करेंगे और कार्यों की गुणवत्ता व प्रगति की रिपोर्ट सीईओ को सौंपेंगे। गौरतलब है कि घरबरा, घंघोला, लडपुरा, मायचा व तिलपता गांव को स्मार्ट विलेज में तब्दील करने के लिए कार्य चल रहा है।

 

 6,490 total views,  2 views today

More Stories

Leave a Reply

Your email address will not be published.

साहित्य-संस्कृति

चर्चित खबरें

You may have missed

Copyright © Noidakhabar.com | All Rights Reserved. | Design by Brain Code Infotech.