नोएडा खबर

खबर सच के साथ

ग्रेटर नोएडा में ग्रीन बेल्ट, बारातघरों और तालाबों को अतिक्रमण मुक्त करने को चलेगा अभियान-सीईओ

1 min read

–सीईओ के निर्देश पर जीएम प्रोजेक्ट ने अपने अधीनस्थों के साथ की मैराथन बैठक
–ग्राम पाठशालाओं, पंचायतघरों, स्कूल, बरातघरों को चमकाने के दिए निर्देश
–झाड़ियों की कटाई, नालियों की सफाई व कूड़ा समय से न उठाने पर ली क्लास
— नए रेट पर विकास कार्यों के टेंडर शीघ्र निकालकर काम शुरू कराने को कहा

ग्रेटर नोएडा, 17 सितम्बर।

ग्रेटर नोएडा में तालाबों हरित पट्टी में पंचायत घरों आदि को अतिक्रमण से मुक्त कराने के लिए प्राधिकरण बहुत जल्द अभियान शुरू करने जा रहा है। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ व मेरठ मंडलायुक्त सुरेन्द्र सिंह के निर्देश पर प्राधिकरण के प्रभारी जी सलिल यादव ने अपने अधीनस्थों के साथ बैठक की, जिसमें उन्होंने विकास कार्यों में तेजी लाने, ग्रीनरी के रखरखाव को और बेहतर बनाने समेत तमाम बिंदुओं पर दिशा-निर्देश दिए।
सलिल यादव ने शुक्रवार को ऑडिटोरियम में वरिष्ठ प्रबंधकों, प्रबंधकों, सहायक प्रबंधकों, टेक्निकल सुपरवाइजरों आदि स्टाफ के साथ लंबे दौर की बैठक में कहा कि गांवों में बने तालाबों को चिन्हित कर लें। अगर वहां अतिक्रमण है, तो उनको शीघ्र हटाते हुए उनका जीर्णोद्धार करें। इसी तरह ग्रीन बेल्ट की सूची बना लें। अगर उनमें अवैध कब्जे हैं तो तत्काल हटा दें। फील्ड में घूमकर जलभराव की संभावना वाले जगहों को चिंहित कर लें। जलभराव होने पर पानी निकासी के लिए पंपिंग सेट को तैयार रखें। जलभराव की शिकायतें प्राप्त करने के लिए हर वर्क सर्किल का एक मोबाइल नंबर आम जनता के लिए जारी करने के निर्देश दिए। प्रभारी जीएम प्रोजेक्ट ने सभी वर्क सर्किल प्रभारियों से कहा कि विकास कार्यों के टेंडर के लिए यूपीपीडब्ल्यूडी के रेट लागू हो गये हैं। अब टेंडर शीघ्र निकालकर कंपनियां चयनित कर काम शुरू कराएं। उन्होंने किसी सेक्टर या गांव में विकास कार्यों का कंप्रेहेंसिव टेंडर निकालने को कहा। सलिल यादव ने ग्राम पाठशालाओं, सामुदायिक केंद्रों, बरातघरों, स्कूल आदि की सूची तैयार कर लें। इन सभी को चमका दें। सूरजपुर तिराहे से डीएम ऑफिस तक टूटी ग्रिल पर नाराजगी जाहिर करते हुए शीघ्र दुरुस्त करने के निर्देश दिए। मिट्टी खनन की शिकायतों पर से नाराज जीएम प्रोजेक्ट ने कहा कि जिस वर्क सर्किल एरिया में खनन मिला, उसी के इंजीनियर के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। सेक्टरों व गांवों में साफ-सफाई के कार्य में लापरवाही, झाड़ियों की कटाई व नालियों की सफाई आदि में लापरवाही करने पर नाराजगी व्यक्त की और इन समस्याओं को तत्काल दूर करने के निर्देश दिए।
प्रभारी जीएम ने आईजीआरएस पोर्टल पर आने वाली शिकायतों को निपटाने में लापरवाही करने पर कार्रवाई की चेतावनी दी। उन्होंने कहा कि सभी वरिष्ठ प्रबंधक , प्रबंधक, सहायक प्रबंधक व सुपरवाइजर प्रत्येक दिन जो भी कार्य करें उसका विवरण दर्ज करें।अवैध प्लॉटिंग, तालाब , ग्रीन बेल्ट या फिर प्राधिकरण की अधिसूचित क्षेत्र में हो रहे अतिक्रमण को प्राथमिकता पर हटाएं। अगर कोई प्राधिकरण कर्मी की इस कार्य में संलिप्त पाई गई तो उसके विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी ।
सलिल यादव ने कहा कि आरटीआई, आइजीआरएस, कोर्ट केस जनसुनवाई और पब्लिक से प्राप्त होने वाली अन्य शिकायतों की प्रत्येक दिन निगरानी हो। इनका शत -प्रतिशत निस्तारण हो। उन्होंने कहा कि लीज प्लान समय से और सही तरीके से बनाए जाएं। सभी को सेक्टरों व ग्रामों के सोशल मीडिया ग्रूप पर जुड़ने और शिकायतों को निस्तारित कर फोटो सहित उत्तर देने के निर्देश दिए । जनता से विनम्रता से पेश आने की बात कही गयी। तकनीकी विभाग को अनावश्यक रूप से आपत्ति लगाने के बजाय संबंधित वर्क सर्किल के स्टाफ को बताकर गलती ठीक कराने के निर्देश दिए। खेल मैदान , बरातघर, कम्युनिटी सेंटर , वेंडर मार्केट , श्मशान घाट , फुटओवर ब्रिज, गौर चौक पर अंडरपास, इंडियन पर नया पुल, ट्रकर्स पार्क आदि को प्राथमिकता पर पूरा करने के निर्देश दिए । इस बैठक में वरिष्ठ प्रबंधक आरए गौतम, एके सक्सेना, चेतराम सिंह व चरण सिंह आदि मौजूद रहे।

 1,605 total views,  2 views today

More Stories

Leave a Reply

Your email address will not be published.

साहित्य-संस्कृति

चर्चित खबरें

You may have missed

Copyright © Noidakhabar.com | All Rights Reserved. | Design by Brain Code Infotech.