नोएडा खबर

खबर सच के साथ

ग्रेटर नोएडा : नए सीईओ के सकारात्मक रुख से किसान नेताओं में जगी समाधान की उम्मीद, एंट्री के लिए पास सिस्टम खत्म

1 min read

ग्रेटर नोएडा, 24 जुलाई।

ग्रेटर नोएडा में चल रहे किसान सभा के आंदोलन में 68 वे दिन सकारात्मक रूप देखने को मिला। किसान सभा ने जहां दिल्ली में राष्ट्रीय लोक दल के नेताओं से बातचीत की वहीं किसानों के 40 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल ने ग्रेटर नोएडा के सीईओ रवि कुमार एन जी से बोर्ड रूम में बातचीत की। इसी बैठक में तय किया गया कि ग्रेटर नोएडा कार्यालय में प्रवेश के लिए लागू पास सिस्टम को तत्काल प्रभाव से समाप्त कर दिया गया है।

किसान सभा का प्रतिनिधिमंडल सोमवार को राष्ट्रीय   लोक दल के राष्ट्रीय महासचिव त्रिलोक त्यागी से दिल्ली जाकर मिला। इसी बीच प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालक अधिकारी से प्रतिनिधिमंडल की सोमवार शाम 3:00 बजे वार्ता हुई। सोमवार को किसान सभा के धरने को 68 वां दिन था धरने की अध्यक्षता ब्रहम सिंह नंबरदार ने की धरने का संचालन संदीप भाटी थापखेड़ा ने किया।

आज निशांत रावल डॉ रुपेश वर्मा बिजेंद्र नागर हरेंद्र खारी अजय पाल भाटी शशांक भाटी बाबा संतराम के नेतृत्व में लोकदल के राष्ट्रीय महासचिव त्रिलोक त्यागी से मिले त्रिलोक त्यागी ने किसान सभा के आंदोलन के मुद्दों को संसद में उठाने का भरोसा दिया और धरने की आवश्यकता अनुसार लोक दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष जयंत चौधरी को किसानों के समर्थन में भेजने का आश्वासन दिया। शाम 3:00 बजे किसान सभा की जिला एक्शन कमेटी के 40 सदस्यों जिनमें महिला भूमिहीन नौजवान भी शामिल रहे। ये सभी बातचीत करने प्राधिकरण के चौथी मंजिल स्थित बोर्ड रूम में गए प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालक अधिकारी रवि कुमार एनजी एसीईओं आनंद वर्धन ओएसडी रजनीकांत और ओएसडी हिमांशु वर्मा प्राधिकरण की ओर से उपस्थित रहे।

नए कानून के अनुसार रेट रिवीजन, एसआईटी जांच में लंबित 533 और 208 प्रकरणों को शासन से अनुमोदित कराने, शिफ्टिंग के संबंध में केस टू केस तस्दीक करते हुए लीजबैक करने, 120 मीटर के प्लॉट को शासन स्तर पर वार्ता कर पुनः बहाल करने, 17.5 परसेंट के कोटा को पुनः बहाल करने, प्रतिशत के प्लाटों पर पेनल्टी के प्रावधान को खत्म करने, बचे किसानों को 64% मुआवजा देने प्लाटों के डिवीजन को 40 वर्ग मीटर की सीमा तक किए जाने आबादियों की सुनवाई तेजी से करते हुए निपटाने, प्रतिशत के प्लाटों में 12 मीटर तक के रोड पर वाणिज्यिक गतिविधि की अनुमति देने ऊंचाई को 15 मीटर करने एवं कमर्शियल चार्जेस को रेसनेलाइज करने सुप्रीम कोर्ट के आदेश अनुसार पुश्तैनी गैर पुश्तैनी का अंतर खत्म करने 130 मीटर रोड से पेरीफेरल एक्सप्रेसवे के बीच में कनेक्टिविटी और तिलपत्ता का बाईपास 130 मीटर रोड से आर ओ बी के बीच बनाने संबंधी मसलों पर अत्यंत सकारात्मक रूप दिखाते हुए पूर्ण करने का वादा किया है किसानों के बड़े मसलों 10% आबादी प्लॉट, रोजगार, नए कानून के अनुसार खरीद से प्रभावित सभी किसानों को समान लाभ, भूमिहीनों का 40 वर्ग का प्लाट पर समझदारी विकसित करने के लिए और अधिक समय मांगा है और आश्वासन दिया है कि जिस हद तक भी होगा हम मुद्दों को सुलझाने की कोशिश करेंगे करीब 5:30 बजे वार्ता समाप्त हुई।

किसान सभा के प्रवक्ता डॉ रुपेश वर्मा और जय जवान जय किसान मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुनील फौजी और किसान सभा के संयोजक वीर सिंह नागर ने धरना स्थल पर सैकड़ों की तादाद में मौजूद किसानों को वार्ता के नतीजों के बारे में बताया धरने पर उपस्थित सभी किसानों ने सर्वसम्मति से 10% आबादी प्लाट, 40 वर्ग मीटर के भूमिहीनों के प्लाट, रोजगार और नए कानून को लागू होने तक मजबूती के साथ लगातार आंदोलन चलाते रहने का प्रस्ताव पास किया है प्रतिनिधिमंडल में वीर सिंह नागर हरेंद्र खारी नरेंद्र भाटी गवरी मुखिया सुरेंद्र यादव महाराज सिंह सूबेदार ब्रह्मपाल सुशील सुनपुरा मुकेश खेड़ी सुंदर भनौता अजय पाल भाटी रामपुर यतेंद्र मैनेजर मायेचा ब्रहम सिंह लुकसर मनोज प्रधान खानपुर अरविंद प्रधान बादलपुर निशांत रावल घोड़ी संदीप थापखेड़ा प्रशांत पाली संजय ईमलिया सुनील फौजी अजब सिंह नेताजी डॉक्टर जगदीश विनोद सरपंच प्रशांत भाटी राजेश भाटी निरंकार सुरेश यादव तिलक देवी पूनम प्रेमवती वीरमति संदीप शैलेंद्री मोहित नागर विजेंद्र सैनी बिजेंद्र नागर राजू पल्ला सतेंद्र शामिल रहे।

सुनील फौजी ने संबोधित करते हुए कहा कि बुधवार को गौतम बुध नगर के सभी किसान संगठनों के नेताओं की बैठक बुलाई गई है जिसमें संयुक्त रूप से आगे आंदोलन की रणनीति बनाई जाएगी निशांत रावल ने कहा कि किसानों के बड़े मुद्दों पर आंदोलन तब तक चलता रहेगा जब तक कि मुद्दे हल नहीं हो जाते सतीश यादव ने कहा कि हमारा दृढ़ संकल्प है मुद्दे हल कराए बिना आंदोलन नहीं हटेगा।

प्रशांत भाटी पाली ने संबोधित करते हुए कहा कि हमारी लड़ाई आर-पार की है किसान विरोधी सीईओ रितु माहेश्वरी का जाना किसानों की बड़ी जीत है नए सीईओ अपना रुख किसानों के पक्ष में दिखा रहे हैं 21 मसलों में से बड़े मसलों को छोड़कर ज्यादातर पर सहमति बन गई है जिस पर तुरंत कार्रवाई आगे बढ़ाए जाने का आश्वासन मिला है। आंदोलन बड़े मुद्दों को हल कराकर ही दम लेगा ।

डॉ रुपेश वर्मा ने धरने को संबोधित करते हुए कहा कि अब हमारे सामने बेरोजगार युवाओं की योग्यताओं के आंकड़े भूमिहीनों के गांव में संख्या के आंकड़े जुटाना जरूरी है गांव कमेटिया इन आंकड़ों को जुटाकर उपलब्ध कराएं जिससे कि आगे बातचीत में ठोस नतीजे सामने आ सकें।

 3,152 total views,  2 views today

More Stories

Leave a Reply

Your email address will not be published.

साहित्य-संस्कृति

चर्चित खबरें

You may have missed

Copyright © Noidakhabar.com | All Rights Reserved. | Design by Brain Code Infotech.