नोएडा खबर

खबर सच के साथ

नोएडा, 15 अगस्त।

छात्रों के अंदर देश प्रेम की भावना को जागृत करने के लिए और आजादी के लिये बलिदान देने वाले सेनानियों के प्रति कृतज्ञता अर्पित करते हुए मंगलवार को एमिटी विश्वविद्यालय में हर्षोल्लास के साथ स्वतंत्रता दिवस मनाया गया। इस अवसर पर एमिटी शिक्षण समूह के संस्थापक अध्यक्ष डा अशोक कुमार चौहान, एमिटी विश्वविद्यालय उत्तरप्रदेश की वाइस चांसलर डा बलविंदर शुक्ला और एमिटी कैपिटल वेंचरस के वरिष्ठ उपाध्यक्ष श्री अमोल चौहान द्वारा झंडा फहराया गया। इस अवसर पर छात्रों को रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किया गया।

एमिटी शिक्षण समूह के संस्थापक अध्यक्ष डा अशोक कुमार चौहान ने छात्रो को संबोधित करते हुए कहा कि आज पूरा देश 77 वां स्वतंत्रता दिवस पूरे जोश व उत्साह के साथ मना रहा है, यह हमारे देश प्रेम, समर्पण और बलिदान का प्रतीक है। एमिटी सदैव छात्रों की युवा शक्ति के माध्यम से राष्ट्र निर्माण में सहयोग देता रहा है और सदैव देता रहेगा। किसी भी राष्ट्र के निर्माण युवाओं की भागीदारी बेहद आवश्यक है जो विभिन्न क्षेत्रो जैसे रक्षा, नीति निर्माण, अनुसंधान आदि में सहयोग करके देश की उन्नति में सहायक बनते है और एमिटी सदैव छात्रों को प्रोत्साहित करता है। डा चौहान ने कहा कि आज विश्व में कोई भी संस्थान व छात्र एमिटी के छात्रों का मुकाबला नही कर सकते है। अगर आज हमारे प्रधानमंत्री कहते है कि देश को विश्व में सर्वशक्तिमान बनायेगें तो वह युवाओं के बल पर ही संभव है। डा चौहान ने छात्रों को सफलता का मूल मंत्र देते हुए सदैव ईश्वर में विश्वास रखने, अच्छा स्वास्थय, भावनात्मक स्थिरता का आर्शीवाद दिया।

एमिटी विश्वविद्यालय उत्तरप्रदेश की वाइस चांसलर डा बलविंदर शुक्ला ने कहा कि आज बहुत ही प्रसन्नता का दिन है जब हम सब मिलकर एक साथ स्वतंत्रता दिवस मना रहे है और हमें आजादी दिलाने वाले शहीदों और सेनानीयों सहित हर पल देश की रक्षा करने वाले सैनिकों के प्रति कृतज्ञता प्रकट कर रहे है। उन्होनें कहा कि देश को हर क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाना है और एमिटी के युवा अपने कार्यो, अनुसंधान, नवाचार, कौशल, रचनात्मकता के माध्यम से इस मिशन को पूरा करने में जुटे है। संस्थान के प्रथम दिन से ही हमने कौशल, अनुसंधान व नवाचार, उद्योग उन्मुखता को शिक्षण से एकीकृत किया है। यह उत्सव के साथ प्रतिबदधता का दिन भी है जब हम संकल्प लेते है कि देश को विश्व का सबसे अग्रणी देश बनाकर स्थापित करेगें और वसुधैव कुटुबंकम सहित मानवता का संदेश देगें। उन्होनें कहा कि एमिटी परिवार डा चौहान के मानवता व राष्ट्र निर्माण के मिशन को पूरा करने की लिए प्रयासरत है।

एमिटी कैपिटल वेंचरस के वरिष्ठ उपाध्यक्ष श्री अमोल चौहान ने कहा कि आज सारा विश्व भारत के जनसांख्यिकीय विभाजन से प्रभावित है क्योकी आज देश में युवाओ ंकी संख्या सबसे अधिक है जो एक नया आयाम स्थापित कर रहे है। श्री चौहान ने कहा कि यह ना देखे कि देश ने हमें क्या दिया है बल्कि हम देश के लिए क्या कर रहे है और क्या कर सकते है इस पर विचार करें।

इस अवसर पर एमिटी विश्वविद्यालय के छात्रों द्वारा रंगारंग सांस्कृति कार्यक्रम प्रस्तुत किया गया जिसमें छात्रों द्वारा देश भक्ती गीत प्रस्तुत किये गये और नृत्य प्रस्तुति भी दी गई। इस समारोह में एमिटी गु्रप वाइस चांसलर डा गुरिंदर सिंह, एमिटी विश्वविद्यालय के फैकल्टी ऑफ स्टडीज के डीन डा संजीव बंसल आदि लोग उपस्थित थे।

 2,365 total views,  2 views today

More Stories

Leave a Reply

Your email address will not be published.

साहित्य-संस्कृति

चर्चित खबरें

You may have missed

Copyright © Noidakhabar.com | All Rights Reserved. | Design by Brain Code Infotech.