नोएडा खबर

खबर सच के साथ

नोएडा, 24 अगस्त।

श्रीरामचरितमानस राष्ट्रीय समिति एवं गीता रामायण समिति के संयुक्त तत्वावधान में श्रावण शुक्ल सप्तमी विक्रमी संवत् 2080 बुधवार को श्रीराम मंदिर, सी. ब्लॉक, सैक्टर-36, नोएडा में “गोस्वामी तुलसीदास जयंती” समारोह आयोजित हुआ।

इस पावन बेला में मानस एवं भागवताचार्य कथा व्यास पं. ओमप्रकाश त्रिपाठी (मानस कोकिल) ने बताया कि गोस्वामी तुलसीदासजी की सभी रचनाओं में श्रीरामचरितमानस अत्यधिक लोकप्रिय हुई है। ईश्वरीय प्रेरणा से लिखित यह महाकाव्य सनातन धर्म के सभी ग्रंथों वेद, पुराण, उपनिषद आदि में वर्णित मानव कल्याणकारी सूत्रों से ओत-प्रोत है। इसमें पाप और पुण्य की परिभाषा “परहित सरिस धर्म नहिं भाई पर पीड़ा सम नहिं अघिमाई” लिखकर जन सामान्य के आचरण हेतु सुग्राह्य कर दी है। इन कल्याणकारी सूत्रों को अपनाकर ही हम राम राज्य की कल्पना कर सकते हैं।

इस अवसर पर पूर्व आई.ए.एस. अधिकारी श्रीगणेश शंकर त्रिपाठीजी ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि जैसा कि अभी कथा व्यास त्रिपाठीजी ने बताया कि श्रीरामचरितमानस जीवन के हर पहलू पर प्रकाश डालते हुए ऐसे सूत्र संजोए हुए है कि जिससे समाज के हर वर्ग का कल्याण संभव है। इस कार्यक्रम में श्रीरामचरितमानस राष्ट्रीय समिति के अध्यक्ष पं. दिनेश चंद्र शर्मा, जगदीश प्रसाद शर्मा, डॉ. भगवान दास पटैरया, लीलू राम वर्मा, जे.के. गुप्ता, डॉ. अंकित अवाना, गीता रामायण समिति के महासचिव सी.एस. भोगल, मंदिर के पुजारी आचार्य योगेन्द्र पाण्डेय, हुकमचंद्र शर्मा, विनोद शर्मा पत्रकार राजेश बैरागी भिक्की लाल शर्मा, सूरजभान शर्मा, अजय शर्मा आदि उपस्थित रहे।

 13,345 total views,  2 views today

More Stories

Leave a Reply

Your email address will not be published.

साहित्य-संस्कृति

चर्चित खबरें

You may have missed

Copyright © Noidakhabar.com | All Rights Reserved. | Design by Brain Code Infotech.