नोएडा खबर

खबर सच के साथ

नोएडा : फोनरवा अध्यक्ष योगेन्द्र शर्मा व महासचिव के के जैन की टीम ने कहा, जो हारता है वही चुनाव से भागता है, हम चुनाव को तैयार

1 min read

नोएडा, 22 नवम्बर।

फोनरवा के अध्यक्ष योगेंद्र शर्मा और महासचिव के.के. जैन ने फोनरवा को लेकर चल रहे विवादों और आरोप प्रत्यारोप पर बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की और कहा कि श्री राजीव गर्ग द्वारा वर्तमान कार्यकारिणी पर लगाए गए सभी आरोप असत्य और निराधार हैं। सभी निर्णय संवैधानिक और नियमों के आधार पर लिए गए हैं। श्री राजीव गर्ग स्वयं ही फोनरवा की वर्तमान कार्यकारिणी कमेटी के वरिष्ठ उपाध्यक्ष है। वर्तमान कार्यकारिणी द्वारा लिए गए सभी निर्णयो पर उनकी सहमति रही है।

योगेंद्र शर्मा ने कहा कि राजीव गर्ग का तीन महीने के बढ़ाये समय का आरोप हास्यास्पद हैं। उनके द्वारा चुनाव को स्थगित करवाने के निर्णय से फोनरवा के सभी सदस्यगण निराश हैं। उन्होंने कहा कि राजीव गर्ग अपनी हार को देखते हुए वर्तमान कार्यकारिणी कमेटी पर अनाप-शनाप आरोप लगा रहे हैं। उनके पैनल के कई उम्मीदवार कार्यकारिणी के वरिष्ठ पदाधिकारी उनके पैनल के उम्मीदवार हैं। उनके द्वारा राजनीति करके अधिकारियों पर अनावश्यक रूप से दबाव डाला जा रहा है।

महासचिव के के जैन ने कहा कि कार्यकारिणी का कार्यकाल बढ़ाने का निर्णय नियमों के आधार पर लिया गया है। हमारे द्वारा डिप्टी रजिस्ट्रार के सभी पत्रों का जवाब समय पर दिया गया है। राजीव गर्ग पैनल द्वारा सिर्फ आरोप लगाए जा रहे हैं अगर उनके आरोपों के कोई प्रमाण है तो डिप्टी रजिस्ट्रार को जवाब दें। उन्होंने कहा जहां तक फाउंडर सदस्यों का प्रश्न है हमने उनके साथ समझौता किया है और उनको सदस्यता देने के लिए हम वचनबद्ध है। इसके लिए हमने सभी आवश्यक दस्तावेज़ डिप्टी रजिस्ट्रार को भेज दिए हैं। हमें उम्मीद है जल्दी ही डिप्टी रजिस्ट्रार द्वारा इस पर कार्रवाई की जाएगी।

उन्होंने कहा कि बहुत अच्छे अनुभव और वरिष्ठ सेवानिवृत्त सरकारी अधिकारियों को ध्यान में रखते हुए, जिन्होंने पिछला फोनरवा का चुनाव बहुत निष्पक्ष और सुचारू रूप से कराया था जिसके लिए सभी सदस्यों द्वारा इनको पुरुस्कृत भी किया गया था। इसी आधार पर कार्यकारिणी समिति तथा आम सभा द्वारा इन चुनाव अधिकारियों का चयन किया गया था। इन चुनाव अधिकारियों पर लगाए गए आरोप बहुत ही शर्मनाक हैं। हम इन पर लगाए गए सभी आरोपों की आलोचना करते हैं। फोनरवा के सभी सदस्य इस बात से सहमत है कि इन चुनाव अधिकारियों का सम्मान किया जाए और फोनरवा कार्यकारणी का चुनाव भी इनके द्वारा ही कराया गया।

एक सवाल के जवाब में योगेन्द्र शर्मा ने कहा कि हर सेक्टर में फोनरवा का प्रतिनिधित्व है। सेक्टर 145 व 141 की आरडब्ल्यूए को लेकर जवाब में उन्होंने कहा कि ये आरडब्ल्यूए नई नही है बल्कि 2019 से पहले एनपी सिंह के कार्यकाल में सदस्य बनी थी। फोनरवा महासचिव के के जैन ने कहा कि कई आरडब्ल्यूए में कभी अध्यक्ष व महासचिव पद अदल बदल करते हैं। कई सेक्टर में तो कई साल से वही पदाधिकारी हैं। यह उनके बायलॉज पर ही निर्भर करता है। इस अवसर पर पवन यादव व विजय भाटी के अलावा अन्य पदाधिकारी मौजूद थे।

 5,715 total views,  2 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published.

साहित्य-संस्कृति

चर्चित खबरें

You may have missed

Copyright © Noidakhabar.com | All Rights Reserved. | Design by Brain Code Infotech.