नोएडा खबर

खबर सच के साथ

सुपरटेक एमराल्ड कोर्ट केस में 24 अधिकारियों पर होगी एफआईआर

1 min read

लखनऊ, 4 अक्टूबर।

नोएडा के सुपरटेक एमराल्ड केस की जांच कर रही एसआईटी ने 26 अधिकारियों को दोषी पाया है 24 के खिलाफ एफ आई आर दर्ज कर विजिलेंस जांच कराई जाएगी जबकि दो लोगों की मृत्यु हो चुकी है इनमें पहली बार नोएडा प्राधिकरण के पूर्व  चेयरमैन व सीईओ मोहिन्दर सिंह और पूर्व सीईओ कैप्टन एसके द्विवेदी भी शामिल हैं। सुपरटेक ग्रुप के चैयरमेन समेत 4 निदेशकों को भी जांच में दोषी पाया गया है।

जांच में दोषी पाए गए अधिकारियों में सेवानिवृत्त अधिकारी
मोहिंदर सिंह तत्कालीन सीईओ नोएडा, एसके द्विवेदी तत्कालीन सीईओ नोएडा, आर पी अरोड़ा तत्कालीन अपर सीईओ नोएडा, पीएन बाथम,तत्कालीन अपर मुख्य कार्यपालक अधिकारी, यशपाल सिंह तत्कालीन ओएसडी। सेवानिवृत्त अन्य अधिकारियों में एके मिश्रा नगर नियोजक, राजपाल कौशिक वरिष्ठ नगर नियोजक, त्रिभुवन सिंह मुख्य वास्तुनियोजक, शैलेंद्र कैरे उप महाप्रबंधक ग्रुप हाउसिंग, बाबू राम परियोजना अभियंता, टीएन पटेल प्लानिंग असिटेंट, वीए देवपुजारी मुख्य वास्तुनियोजक , एनके कपूर एसोसिएट वास्तुविद, प्रवीण श्रीवास्तव सहायक वास्तुविद, ज्ञान चंद्र विधि अधिकारी, राजेश कुमार विधि सलाहकार, विपिन गौड़ महाप्रबंधक, एमसी त्यागी परियोजना अभियंता, एससी सिंह वित्त नियंत्रक ,के के पांडेय मुख्य परियोजना अभियंता ।
मौजूदा अधिकारियों पर कार्रवाई हुए निलंबित
ऋतुराज व्यास सहयुक्त नगर नियोजक, वर्तमान में यमुना प्राधिकरण में प्रभारी महाप्रबंधक, अनीता प्लानिंग असिटेंट, वर्तमान में यूपीसीडा में, मुकेश गोयल नियोजक सहायक (वर्तमान में प्रबंधक नियोजक गीडा) विमला सिंह सहयुक्त नगर नियोजक, के के पांडेय मुख्य परियोजना अभियंता ,चार वास्तुविद पर गिरी गाज सतर्कता जांच, होगी एफआईआर
निदेशक आर के अरोड़ा, संगीता अरोड़ा, अनिल शर्मा, विकास कंसल
दो आर्कीटेक्ट कंपनी शिकायत भेजी गई
दीपक मेहता एसोसिएटस, मोदार्च आर्कीटेक्ट

 2,255 total views,  2 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published.

साहित्य-संस्कृति

चर्चित खबरें

You may have missed

Copyright © Noidakhabar.com | All Rights Reserved. | Design by Brain Code Infotech.