नोएडा खबर

खबर सच के साथ

नोएडा कांग्रेस के पूर्व महानगर अध्यक्ष ने पार्टी नेताओं को दिखाया आईना, 2022 में बाहरी को टिकट ना दें कार्यकर्ता को दें तवज्जो

1 min read

नोएडा, 15 दिसम्बर।

नोएडा कांग्रेस को नही बनने देगें बाहरी नेताओँ के लिये पर्यटन स्थल आओ ओर चुनाव लड़ कर भाग जाओ ऐसा इस बार नही होने देगें पार्टी यहाँ के जमीनी नेताओँ को मौका दे बहुत पुराने नेता है जो जमीन पर कार्य कर रहे है। यह आह्वान नोएडा महानगर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष शाहबुद्दीन ने किया है।

दरअसल नोएडा में इस तरह की खबरें सुनने व पढ़ने को मिल रही है शाहबुद्दीन ने कहा है कि सपा का तो पता नही पर कांग्रेस पार्टी जनपद गौतमबुद्ध नगर कांग्रेस/नोएडा को पता नही क्यों दूसरी पार्टी से आये बाहरी लोगों के लिये पर्यटन_स्थल बना दिया जाता है उन्होंने पूछा है कि क्या मजबूरी है हमारे नेताओँ की बन जाती है सन् 1998 के बाद जितने भी चुनाव हुए सब का गवाह मैं स्वयं हूँ 2009 में रमेश चंद तोमर लोकसभा का चुनाव लड़े जो भाजपा से आये उसके बाद वो भी 2014 का लोकसभा चुनाव लड़े पर्चा भर कर भाग गये ये होते है बाहरी लोग जो दूसरी पार्टी से आते है चुनाव लड़ते है ओर पार्टी को व पार्टी के कार्यकर्ताओं को धोखा देकर भाग जाते है उसके बाद यहाँ 2012 में विधानसभा चुनाव लड़े डाँ० विजय सिंह चौहान प्रकाश अस्पताल वाले ये भी भाजपा के नेता हुआ करते थे लेकिन चुनाव लड़ने के लिये कांग्रेस में आये फिर भाजपा में चले गये उसके बाद आये 2019 के लोकसभा चुनाव लड़ने आये डाँ० अरविंद सिंह भाजपा नेता के बेटे चुनाव लड़े और गायब हो गये यहाँ वो चुनाव लड़ रहे थे और उन के भाजपाई पिता ठाकुर जयवीर सिंह भाजपा के लिये वोट मांग रहे थे अब बात आती है 2022 के चुनाव की इस बार भी दूसरी पार्टी से आये नेताओँ को कांग्रेस के कुछ नेता ज्यादा भाव दे रहे है फिर से वही होगा जो हर बार होते आया है ऐसा संदेह हो रहा है क्योंकि बाहरी नेताओँ के तनख्वाह प्राप्त लोग लोगों से बोल रहे है और सोशल साइट पर लिख भी रहे है नोएडा/गौतम बुद्ध नगर में ये चलन कब तक चलता रहेगा हमारी पार्टी के कुछ वरिष्ठ नेता दूसरी पार्टी से आये बाहरी लोगों को यहाँ पर्यटन स्थल बनाने/मानने की आजादी कब तक रहेगी हम कांग्रेस के कार्यकर्ता इस बार नोएडा विधानसभा को पर्यटन स्थल नही बनने देगें दूसरी_पार्टी से_आये बाहरी नेताओँ को इस बार कामयाब नही होने देगें।।
शाहबुद्दीन ने बताया कि कुछ समय पहले ये बाहरी शब्द अपने एक मेसेज में लिखा था उन्हीं दूसरी पार्टी से आये बाहरी नेताओँ के तनख्वाह प्राप्त लोगों ने इस पर आपत्ति दर्ज की थी तो मेरा उन्हें ये संदेश है पढ़ ले बाहरी का मतलब ये कतई ना समझे की जो लोग बाहर से यहाँ आकर बस गये है उन के लिये ये शब्द लिखा गया था बाहरी शब्द लिखा ही उन लोगों के लिये गया था जो दूसरी पार्टी से आकर यहाँ चुनाव लड़ना चाहते है और लड़कर भाग जाना चाहते है नोएडा की स्थापना 1976 में हुई उसके बाद बाहर से आये लोगों ने यहाँ मेहनत से काम शुरु किया ओर अपना घर बनाया ये नोएडा भी उन्होंने ही बनाया व बसाया नोएडा में सब बहार से आकर ही बसे है हम खुद भी बहार से यहाँ आकर बसे है कोई ना कोई कही ना कही से यहाँ आकर बसा है वो बाहरी कभी नही हो सकता जब हम राजनीति की बात करते है राजनीति पार्टी में बाहरी की बात करते है तो बाहरी उन के लिये उपयोग में लाया जाता है जो दूसरी पार्टी से आकर यहाँ चुनाव लड़ कर भाग जाते है हमारी कांग्रेस को पर्यटन स्थल समझते है हम सब कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के लिये वो बाहरी है इस लिये ऐसे बाहरी लोगों पर नजर रखो कौन कौन नेता उन के सम्पर्क में है वो किस तरह के नेता है ये ध्यान रखो किस लालच में कौन नेता उन बाहरी नेताओँ को टिकट दिलवाते है उस पर चर्चा करो क्योंकि चर्चा नही करोगे तो बाहरी नेता फिर कामयाब हो जायेंगे इस लिये अपने नेताओँ व बाहरी नेताओँ पर नजर रखो दूसरी व अंतिम बात ये बाहरी लोग बाहर से नेता लाकर आप के सर पर बैठा देते है उन्हें महीने की तनख्वाह देते है इस लिये वो उन के गीत गाते है वो भी चुनावों के बाद भाग जाते है क्योंकि उन्हें तनख्वाह पूरी मिलती है वो नेता नही होते लेकिन आप और हम कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता है लोगों के ताने हम सूनते है की आप के यहाँ तो बाहर के लोगों को चुनाव लड़वा जाता है वो चुनाव लड़ते है और भाग जाते है कांग्रेस अपने नेताओँ को क्यों टिकट नही देती इन सब बातों के जवाब हम देते है क्योंकि हमें हमेशा कांग्रेस में रहना है इस लिये नोएडा में कांग्रेस को पर्यटन_स्थल बनने से रोकने के लिये बाहरी भगाओ_नोएडा_कांग्रेस_बचाओ के नारे के साथ आगे बढ़ते रहो टिकट बाहरी को सैंटिग गैंटिंग कर मिल भी जायेगा लेकिन वोट तो हम सब को ही देना है वो तनख्वाह प्राप्त लोग बहुत कम मात्रा में है हम सब ज्यादा संख्या में है जवाब देने को तैयार रहना होगा।
नोएडा में कांग्रेस पार्टी को इस पर्यटन स्थल नही बनने देगें

ये मेसेज उपर तक जायेगा जिन का सबसे बड़ा रियेक्शन आयेगा उन्होंने ही एक सभा में बताया था कि कार्यकर्ता को कोई हटा नही सकता कोई भगा नही सकता इस लिये डरने की भी कोई जरुरत नही है अपनी बात अवश्य करें।

 3,439 total views,  2 views today

More Stories

Leave a Reply

Your email address will not be published.

साहित्य-संस्कृति

चर्चित खबरें

You may have missed

Copyright © Noidakhabar.com | All Rights Reserved. | Design by Brain Code Infotech.