नोएडा खबर

खबर सच के साथ

उपकार का 33 वां वार्षिकोत्सव, मुख्यमंत्री ने कैप्टन विकास गुप्ता को दी बधाई, 20 किसान अभिनव प्रयोग के लिए सम्मानित

1 min read

-उत्तर प्रदेश ने कम समय में तिलहन का तीन गुना उत्पादन किया-योगी आदित्यनाथ

-कृषि क्षेत्र में विकास के लिए उपकार अध्यक्ष कैप्टन विकास गुप्ता बधाई के पात्र-योगी आदित्यनाथ

-20 प्रगतिशील कृषकों को मुख्यमंत्री ने किया सम्मानित

लखनऊ,14 जून।

उत्तर प्रदेश ने बहुत ही कम समय में तिलहन का तीन गुना उत्पादन किया है। साथ ही दलहन के क्षेत्र में भी महत्वपूर्ण प्रयास किये गये हैं।
उक्त उदगार प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उ.प्र. कृषि अनुसंधान परिषद के 33वें स्थापना दिवस के अवसर पर
सतत कृषि के लिये अभिनव दृष्टिकोण विषय पर आयोजित कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि व्यक्त किये।

कृषि अनुसंधान परिषद के अध्यक्ष कैप्टन विकास गुप्ता की प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा कि हमने जब प्रदेश की कमान संभाली तो अर्थव्यवस्था का ढांचा चरमराया हुआ था। हमने सभी सहयोगियों के साथ मेहनत करके अर्थव्यवस्था को संभाला। इसमें भी कृषि क्षेत्र का विशेष योगदान रहा, जिसके लिए कृषि अनुसंधान परिषद के अध्यक्ष कैप्टन विकास गुप्ता बधाई के पात्र हैं। उन्होंने कहा कि कृषि अनुसंधान परिषद लगातार प्राकृतिक और जैविक खेती पर काम कर रहा है परन्तु हमें इस तरफ ओर ज्यादा ध्यान देना होगा जिससे हम अपने किसान भाईयों की आमदनी दोगुनी ही नहीं अपितु चार गुना तक बढा सकें।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमारी सरकार लगातार किसानों के लिए काम कर रही है। हम चाहते हैं कि किसानों के साथ साथ सभी लोग मिलकर मोदी जी के अनुरुप एक नये भारत का निर्माण कर सकें।

कार्यक्रम में बतौर विशिष्ट अतिथि कृषि मंत्री श्री सूर्य प्रताप शाही, कृषि राज्य मंत्री श्री बलदेव सिंह औलख ने भाग लिया।

संगोष्ठी में पदमश्री से सम्मानित प्रदेश के कृषक तथा निवेश आपूर्ति करने वाली फर्मों का भी एक सत्र आयोजित किया गया। संगोष्ठी में देश / प्रदेश के ख्याति प्राप्त वैज्ञानिकों, प्रदेश के कृषि विश्वविद्यालयों के कुलपतियों तथा प्रदेश के कृषि व संबंधित विभागों के निदेशकों, कृषि विज्ञान केन्द्र के वैज्ञानिकों, विश्वविद्यालय के शिक्षकों तथा प्रदेश के प्रगतिशील कृषकों द्वारा भाग लेकर प्रदेश में सतत् कृषि के लिये अभिनव दृष्टिकोण पर गहन विचार विमर्श किया गया।
कार्यक्रम में कृषि उत्पादन आयुक्त मनोज कुमार सिंह, अपर मुख्य सचिव, कृषि शिक्षा एवं अनुसंधान उ.प्र. डा. देवेश चतुर्वेदी, उपमहानिदेशक, भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद, नई दिल्ली डा. एके. सिंह, इन्टरनेशनल राइस रिसर्च इंन्टीट्यूट के परामर्शी डा. यू. एस. सिंह, भारतीय गन्ना अनुसंधान संस्थान, लखनऊ के निदेशक डा. ए.डी.पाठक, केन्द्रीय उपोष्ण बागवानी संस्थान, लखनऊ के प्रधान वैज्ञानिक डा. एस. के. शुक्ला, एफपीओ सेल के प्रदेश समन्वयक डा. अवनी कुमार सिंह, भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान, नई दिल्ली के प्रधान वैज्ञानिक डा. राजीव कुमार सिंह, तथा डा. वी.पी. शाही ने भी भाग लिया।

संगोष्ठी में कृषि क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले प्रदेश के विभिन्न जनपदों के कृषि विज्ञान केन्द्रों द्वारा संस्तुत 20 प्रगतिशील कृषकों को मा. मुख्यमंत्री जी द्वारा सम्मानित किया गया।

संगोष्ठी में प्रदेश के विभिन्न जिलों से आये किसानों ने भी अपने अनुभव साझा किये और बताया कि बाकी किसान भाई भी कैसे कृषि से लाभ उठा सकते हैं।

 13,320 total views,  4 views today

More Stories

Leave a Reply

Your email address will not be published.

साहित्य-संस्कृति

चर्चित खबरें

You may have missed

Copyright © Noidakhabar.com | All Rights Reserved. | Design by Brain Code Infotech.