नोएडा खबर

खबर सच के साथ

गौतमबुद्ध नगर : प्राइमरी स्कूलों का निरीक्षण करने निकले डीएम, मलकपुर और लखनावली में मिली खामियां

1 min read

-जनपद के प्राथमिक विद्यालयों में सभी सुविधाएं एवं शिक्षा मानकों के अनुरूप उपलब्ध कराने को लेकर डीएम मनीष कुमार वर्मा गम्भीर।

-जिला अधिकारी ने आज किया 4 प्राथमिक विद्यालयों का औचक निरीक्षण, दिये सम्बन्धित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश।

-विद्यालयों में छात्रों की उपस्थिति को लेकर अध्यापकों को दिये आवश्यक दिशा निर्देश।

-सभी प्रधानाचार्य एवं अध्यापकगण समय से उपस्थित होकर अपने दायित्वों का करें शत् प्रतिशत निर्वहन।

-विद्यालयों में साफ-सफाई पर रखा जाए विशेष फोकस, सभी मूलभूत सुविधाएं मानकों के अनुरूप की जाए सुदृढ़।

-प्राथमिक विद्यालय में पढ़ने वाले छात्रों को मिल रहे मिड-डे-मिल की गुणवत्ता पाई गयी सही।

-विद्यालयों का औचक निरीक्षण करने के उपरांत जिला अधिकारी द्वारा जलपुरा गौशाला का किया गया निरीक्षण।

गौतमबुद्ध नगर, 30 अगस्त।

जिले के प्राथमिक विद्यालयों में सभी सुविधाएं एवं शिक्षा मानकों के अनुरूप उपलब्ध कराने को लेकर जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा के निर्देशों के क्रम में जिला प्रशासन के अधिकारीगण निरंतर भ्रमणशील रहकर औचक रूप से विद्यालयों का निरीक्षण कर रहे हैं।

इसी श्रृंखला में बुधवार को जिला अधिकारी मनीष कुमार वर्मा द्वारा प्राथमिक विद्यालय बेगमपुर, उच्च प्राथमिक विद्यालय लखनावली, प्राथमिक विद्यालय मुबारिकपुर, प्राथमिक विद्यालय मकनपुर का औचक निरीक्षण किया गया। जिला अधिकारी ने अपने निरीक्षण के दौरान पाया कि प्राथमिक विद्यालय में मिलने वाला मिड-डे-मिल सभी छात्र-छात्राओं को गुणवत्ता के साथ मानकों के अनुरूप मिल रहा है।

जिला अधिकारी ने इस अवसर पर विद्यालय प्रधानाचार्य/अध्यापकगणों को निर्देश दिए कि स्कूलों में पढ़ने वाले सभी छात्र छात्राओं को सभी मूलभूत सुविधाएं एवं शिक्षा मानकों के अनुरूप उपलब्ध कराई जाए साथ ही उन्होंने उपस्थिति पंजिका की जांच करते हुए अध्यापक गणों को निर्देश दिये कि बच्चों की उपस्थिति पर विशेष फोकस रखा जाए। निरीक्षण के दौरान प्राथमिक विद्यालय बेगमपुर ब्लाक बिसरख विद्यालय में शिक्षा की गुणवत्ता सन्तोषजनक पायी गयी। विद्यालय प्रांगण में ग्रेटर नोएडा विकास प्राधिकरण द्वारा निर्मित बारातघर का निर्माण कार्य पूर्ण होने के उपरान्त अद्यतन बारातघर का हस्तांतरण नहीं हुआ है, जिसके लिए जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को बारातघर का हस्तांतरण तत्काल कराये जाने के लिए एवं साथ ही अन्य विभागों की योजनाओं का क्रियान्वयन सुचारू रूप से कराये जाने तथा उन्हें समयान्तर्गत पूर्ण कराये जाने के निर्देश जिलाधिकारी द्वारा दिये गये।

कम्पोजिट विद्यालय लखनावली ब्लाक बिसरख निरीक्षण के समय विद्यालय प्रांगण की साफ-सफाई की व्यवस्था बहुत ही निम्न स्तर की पायी गयी। विद्यालय को हस्तांतरित कम्पोजिट ग्राण्ट मद से प्रधानाध्यापक द्वारा जो कार्य कराये गये है वह सन्तोषजनक नहीं है। आपरेशन कायाकल्प एवं कम्पोजिट ग्राण्ट के तहत कराये गये निर्माण कार्य की गुणवत्ता सन्तोषजनक नहीं पायी गयी। विद्यालय के प्रधानाध्यापक द्वारा उक्त से सम्बन्धित पूछे गये प्रश्नों का सन्तोषजनक प्रति उत्तर जिलाधिकारी को नहीं दिया गया। जिलाधिकारी द्वारा सम्बन्धित प्रधानाध्यापक को भविष्य के लिये चेतावनी दी। प्राथमिक विद्यालय मुबारिकपुर ब्लाक बिसरख निरीक्षण के दौरान यह तथ्य संज्ञानित हुआ कि कक्षा 2 के चार छात्रों के नाम अभिभावकों द्वारा विद्यालय से पृथक करा लिये गये है, जबकि माननीय मुख्यमंत्री जी उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा निरन्तर आह्वान किया जा रहा है कि परिषदीय विद्यालयों में ज्यादा से ज्यादा नामांकन कराया जाये, किन्तु उक्त विद्यालय में शासन के निर्देशों के विपरीत नाम पृथक किये जाने सम्बन्धी प्रकरण असन्तोषजनक है। जिला अधिकारी द्वारा विद्यालय के प्रधानाध्यापक/समस्त अध्यापकों को चेतावनी दी गयी कि गाँव में अभिभावकों से सम्पर्क कर छात्र छात्राओं नामांकन को बढाया जाये तथा राज्य सरकार द्वारा जो योजनायें बच्चों के लिये लागू की गयी है यथा निशुल्क यूनीफार्म, पाठ्य पुस्तक, जूता, मोजा, स्कूल बैग, स्टेशनरी एवं मध्यान्ह भोजन योजना आदि से अभिभावकों को अवगत कराया जाये ताकि विद्यालय में अधिक से अधिक नामांकन हो सके। जिलाधिकारी द्वारा विद्यालय में दो नवीन अतिरिक्त कक्षा कक्ष के निर्माण का भी निरीक्षण किया गया, जिसकी भौतिक स्थिति देखने पर ठीक नहीं पायी गयी। अतिरिक्त कक्षा कक्ष के फर्श के मार्बल का कार्य अद्यतन अधूरा है, जिसके तत्काल पूर्ण कराये जाने के निर्देश जिलाधिकारी द्वारा दिये गये। उन्होंने सम्बन्धित विकास खण्ड के खण्ड शिक्षा अधिकारी, सम्बन्धित एस0आर0जी0, ए0आर0पी0 एवं सहायक स्टाफ को निर्देशित किया कि विद्यालय में बच्चों का नामांकन बढ़वाये जाने में अपना योगदान देना सुनिश्चित करें। प्राथमिक विद्यालय मलकपुर ब्लाक बिसरख निरीक्षण के दौरान विद्यालय में शिक्षा की गुणवत्ता निम्न स्तर की पायी गयी। विद्यालय में कार्यरत 6 अध्यापकों में से 4 अध्यापक अवकाश पर होना पाया गया, जबकि शासन द्वारा निर्देश दिये गये है कि एक समय में एक से ज्यादा अध्यापकों का अवकाश स्वीकृत न किया जाये क्योंकि ज्यादा अध्यापकों के अनुपस्थित रहने के कारण छात्रों की शिक्षा पर प्रतिकूल प्रभाव पडना स्वाभाविक है। उक्त स्थिति अत्यन्त खेदजनक एवं असन्तोषजनक है। विद्यालय में कार्यरत अध्यापक पढ़ाने में रूचि नहीं ले रहे है। विद्यालय में साफ सफाई का अभाव पाया गया। जिलाधिकारी द्वारा विद्यालय में साफ सफाई एवं शिक्षा की गुणवत्ता एवं अवकाश सम्बन्धी नियमों का अनुपालन किये जाने के निर्देश दिये गये।

विद्यालय निरीक्षण के उपरान्त जिला अधिकारी द्वारा गौशाला जलपुरा का निरीक्षण किया गया, जहां पर वर्तमान में लगभग 2500 गोवंश रखे जा रहे है। जिला अधिकारी सम्बन्धित अधिकारियों का आह्वान करते हुये गौशाला में शेड एवं उनके चारे आदि से सम्बन्धित व्यवस्था मानकों के अनुरूप करने के सम्बन्ध में आवश्यक दिशा निर्देश दिये। निरीक्षण के दौरान मुख्य विकास अधिकारी जनार्दन सिंह, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी एश्वर्या लक्ष्मी, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी एवं सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित रहे।

 10,516 total views,  2 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published.

साहित्य-संस्कृति

चर्चित खबरें

You may have missed

Copyright © Noidakhabar.com | All Rights Reserved. | Design by Brain Code Infotech.