नोएडा खबर

खबर सच के साथ

नई दिल्ली, 20 नवम्बर।

आईआईटी दिल्ली में यूथ आइडियाथॉन के जूनियर कैटेगरी के ग्रैंड फिनाले में डीपीएस नोएडा के चार छात्रों ने अपने आइडिया से सबका दिल जीत लिया। डीपीएस नोएडा के सातवीं क्लास के चार छात्रों की टीम को टॉप -3 में आने पर गोल्ड मेडल से सम्मानित किया गया . वन्या गर्ग, सम्यक् राज सिंह , रिया गोयल , निसर्ग खंडेलवाल को अवॉर्ड्स दिये गये . डीपीएस नोएडा की प्रिंसिपल कामिनी भसीन ने अपने स्कूल के बच्चों को ये अवॉर्ड्स मिलने पर ख़ुशी जताई और चारों बच्चों को अच्छे भविष्य के लिए शुभकामना दी।
यूथ आइडियाथॉन के जूनियर कैटेगरी के तहत इन छात्रों ने एक ऐसा ऐप बनाया है जिससे टीचर्स को फ़ायदा हो सकता है। कोई भी टीचर इस एप के ज़रिए मेडिकल से जुड़ी जानकारी या मदद ले सकता है। इन छात्रों के बनाये गये प्रोजेक्ट में कई खूबियाँ हैं। डीपीएस नोएडा के सातवीं क्लास के चार छात्रों वन्या गर्ग, सम्यक् राज सिंह , रिया गोयल , निसर्ग खंडेलवाल की टीम की मेंटर शिखा गुप्ता थीं।

शिखा गुप्ता की देखरेख में इन बच्चों को यूथ आइडियाथॉन के लिए आगे बढ़ने की प्रेरणा मिली। पेशे से शिखा गुप्ता टीचर हैं, उन्होंने बच्चों को इस मुक़ाम तक पहुँचाने में खूब मेहनत की। बच्चों ने भी उन्हें निराश नहीं किया। आईआईटी दिल्ली में यूथ आइडियाथॉन के जूनियर कैटेगरी के ग्रैंड फिनाले में डीपीएस नोएडा के छात्र वन्या गर्ग, सम्यक् राज सिंह , रिया गोयल , निसर्ग खंडेलवाल की टीम ने शानदार परफ़ॉर्मेंस से Judges को इम्प्रेस किया। अपने आइडिया का लोहा मनवाया। वन्या गर्ग, सम्यक् राज सिंह , रिया गोयल , निसर्ग खंडेलवाल ने जजों के सामने अपने आइडिया का प्रेजेंटेशन देकर बताया कि इससे भारत के शिक्षकों को कैसे फ़ायदा होगा। छात्रों ने बताया कि आख़िर ये आइडिया कहाँ से आया और इसको ग्रामीण स्तर पर कैसे ले जाया जा सकता है।
थिंकस्टार्टअप की चीफ बिज़नेस ऑफिसर वंदना अहलूवालिया ने बताया कि यूथ आइडियाथॉन में इस साल 1.5 लाख बच्चों ने हिस्सा लिया।

उन्होंने कहा कि क़रीब 8000 स्कूल के बच्चे इसमें शामिल थे, पहले चरण में 1000 टीम को सेलेक्ट किया गया, जिसमें क़रीब 4000 स्टूडेंट्स थे। इसमें सीनियर और जूनियर कैटेगरी के स्टूडेंट्स शामिल थे। वंदना अहलूवालिया ने कहा कि इसके बाद सीनियर कैटेगरी से टॉप 100 टीम को सेलेक्ट किया गया जबकि जूनियर कैटेगरी में टॉप 50 टीम को सेलेक्ट किया गया। उन्होंने कहा कि अगले राउंड में सीनियर कैटेगिरी में 25 टीम को जबकि जूनियर कैटेगरी में 10 टीम को IIT दिल्ली में ग्रैंड फिनाले में प्रेजेंटेशन के लिए बुलाया गया। जूनियर कैटेगरी में टॉप 10 में से टॉप 3 में डीपीएस नोएडा, हैदराबाद का ऑलिवर माउंट स्कूल और दिल्ली के एमिटी इंटरनेशनल स्कूल को जगह मिली।

उल्लेखनीय है कि यूथ आइडियाथॉन स्कूली छात्रों के लिए स्टार्टअप विचारों का भारत का सबसे बड़ा त्योहार है, जिसकी स्थापना 2021 में मैनेजमेंट एंटरप्रेन्योरशिप प्रोफेशनल स्किल्स काउंसिल (एमईपीएससी) और थिंकस्टार्टअप द्वारा की गई थी. केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने भी यूथ आइडियाथॉन को मान्यता दी है। एमईपीएससी के सीईओ कर्नल अनिल कुमार पोखरियाल ने  कहा, ” बच्चे भारत के भविष्य का प्रतिनिधित्व करते हैं और हमारे युवाओं को उद्यमिता की अवधारणा से परिचित कराना समय की मांग बन गई है। ”

इसमें कोई शक नहीं कि ऐसे कार्यक्रम से
छात्रों के उद्यमशील दिमाग न केवल हमारे देश को नई ऊंचाइयों पर ले जाएंगे, बल्कि मानवता को अधिक टिकाऊ और उज्जवल भविष्य की ओर भी ले जाएंगे.

 22,187 total views,  2 views today

More Stories

Leave a Reply

Your email address will not be published.

साहित्य-संस्कृति

चर्चित खबरें

You may have missed

Copyright © Noidakhabar.com | All Rights Reserved. | Design by Brain Code Infotech.