नोएडा खबर

खबर सच के साथ

जिम्स में जीनोम सीक्वेंसिंग का लोकार्पण, जुलाई से एमआरआई की सुविधा मिलेगी

1 min read

गौतमबुद्धनगर, 19 जून।

उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव एवं अध्यक्ष, राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान श्री दुर्गा शंकर मिश्र की अध्यक्षता में प्रमुख सचिव, चिकित्सा शिक्षा एवं उपाध्यक्ष, राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान श्री आलोक कुमार तथा महानिदेशक चिकित्सा शिक्षा की उपस्थिति में रविवार को प्रशासनिक ब्लॉक के सभागार में संस्थान की सातवीं शासी निकाय की बैठक सम्पन्न हुई।
मुख्य सचिव लगभग 3 बजे राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान पहुंचे जहॉ निदेशक डा (ब्रिगे0) राकेश गुप्ता एवं प्रमुख सचिव, चिकित्सा शिक्षा श्री आलोक कुमार ने उनका पौधा भेंट कर स्वागत किया। उसके बाद मुख्य सचिव ने निदेशक राकेश गुप्ता व प्रमुख सचिव के साथ अस्पताल का निरीक्षण किया। इसके साथ ही मुख्य सचिव द्वारा संस्थान में नवस्थापित जीनोम सीक्वेंसिंग सुविधा का लोकार्पण किया गया और निदेशक डा0 ब्रिगेडियर राकेश गुप्ता व लैब इंचार्ज डा0 विवेक गुप्ता को बधाई दी। लोकार्पण के मौके पर लैब इंचार्ज डा0 विवेक गुप्ता ने संकाय सदस्यों व लोगों को सम्बोंधित करते हुए कहा कि संस्थान में जीनोम सीक्वेंसिग की सुविधा प्रारम्भ होने से महामारी व वायरस जनित रोगों की पहचान कर उपचार में आसानी होगी। प्रमुख सचिव श्री आलोक कुमार ने कहा कि जिम्स ने ब्रिगेडियर राकेश गुप्ता के निर्देशन में इतने कम समय में ही संस्थान में इतनी सुविधाएं उपलब्ध करायी हैं जिसमें कई वर्ष लग जाते। निदेशक राकेश गुप्ता ने मुख्य सचिव के साथ सभी का आभार प्रकट करते हुए कहा कि यह सब उच्च अधिकारियों के निर्देशन एवं सहयोग से ही पूर्ण हुआ। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि संस्थान में एम0आर0ई0 मशीन लगाये जाने का काम लगभग पूर्ण होने को है, जुलाई 2022 से संस्थान में मरीजों व आस-पास के क्षेत्र वासियों को एम0आर0आई0 की सुविधा उपलब्ध हो जायेगी।
इसके बाद संस्थान के प्रशासनिक भवन के सभागार में मुख्य सचिव महोदय की अध्यक्षता में संस्थान की शासी निकाय की सातवीं बैठक प्रारम्भ हुई। मुख्य कार्यपालक अधिकारी, ग्रेटर नोएडा विकास प्राधिकरण तथा अटल बिहारी वाजपेयी चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति डा0 ए0के0 सिंह तथा वित्त विभाग के प्रतिनिधि ऑनलाइन जूम पर उपस्थित रहें। बैठक में संस्थान के विभिन्न मुददों पर चर्चा हुई जिसमें संस्थान को आवंटित 56 एकड भूमि पर नवीन कॉलेज भवन व अन्य भवनों के निर्माण के साथ ही अस्पताल के बेसमेंन्ट की सीपेज का मुददा भी रहा। इसके साथ ही निदेशक डा0 ब्रिगे0 राकेश गुप्ता ने संस्थान में सुपर स्पेशियलिटी सुविधा, डायबिटीज केन्द्र, मोबाइल हैल्थ केयर यूनिट की स्थापना के साथ परास्नातक एम0डी0/एम0एस0 पाठयक्रम प्रारम्भ किये जाने के बारे में अवगत कराया। साथ ही उन्होंने बताया कि संस्थान में शोध एवं प्रकाशन पर ध्यान दिया जा रहा है वर्तमान में 150 से ज्यादा शोध कार्य एवं 200 से ज्यादा प्रकाशन प्रकाशित हो चुके हैं। मुख्य सचिव महोदय की अध्यक्षता में सम्पन्न बैठक में कई अहम मुददों पर सहमति बनी तथा कई मुददों पर संस्थान स्तर पर ही कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये।
बैठक के अन्त में मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा0 सौरभ श्रीवास्तव एवं संकायाध्यक्ष डा0 रम्भा पाठक ने अतिथियों को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। बैठक में संस्थान के वित्त अधिकारी श्री नीरज कुमार व संकाय प्रशासन प्रभारी डा0 अनुराग श्रीवास्तव भी उपस्थित रहे। जाते समय मुख्य सचिव व प्रमुख सचिव द्वारा निदेशक के साथ प्रशासनिक ब्लॉक में वृक्षारोपण किया।

 4,891 total views,  2 views today

More Stories

Leave a Reply

Your email address will not be published.

साहित्य-संस्कृति

चर्चित खबरें

You may have missed

Copyright © Noidakhabar.com | All Rights Reserved. | Design by Brain Code Infotech.