नोएडा खबर

खबर सच के साथ

गौतमबुद्धनगर पुलिस कमिश्नरेट में स्वयं सिद्घा योजना की 58 स्कूटी कहां गई, आरटीआई में हुआ खुलासा

1 min read

-कमिश्नरेट पुलिस की स्वयं सिद्ध योजना पर उठे सवाल- आरटीआई
-समाजसेवी रंजन तोमर की आरटीआई से खुलासे , 100 में से बची 42 स्कूटी

नोएडा, 21 जुलाई।

अगस्त 2020 में पुलिस कमिश्नरेट में तब के गौतम बुद्ध नगर पुलिस कमिश्नर श्री आलोक सिंह द्वारा स्वयं सिद्ध नामक योजना का शुभारम्भ किया गया , जिसमें 50 स्कूटियों पर महिला पुलिस को हरी झंडी देकर रवाना किया गया। पुलिस और मीडिया के माध्यम से मिली जानकारी के अनुसार तब कुल 100 ऐसी स्कूटियों को पुरे शहर में महिला सुरक्षा हेतु लगाया गया था , जो की कॉलेजों , मॉल, मेट्रो स्टेशन, मार्केटों आदि जहाँ भी महिलाओं को समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है वहां पेट्रोलिंग हेतु लगाई जानी थी , इस बाबत नॉएडा के समाजसेवी एवं अधिवक्ता श्री रंजन तोमर ने एक आरटीआई गौतम बुध नगर पुलिस कमिश्नरेट में लगाई , जिसके जवाब से कई सवाल खड़े हो गए हैं ,

कुल 100 स्कूटियों की तो छोड़िये , शहर में लगभग मात्र 3 साल में 58 स्कूटियों का कोई अता पता ही नहीं है , कमिश्नरेट स्वयं कहता है की कुल 42 स्कूटी स्वयं सिद्ध योजना के तहत शहर में चल रही हैं , जहाँ तक बात है अन्य स्कूटियों की तो उसकी कोई जानकारी पुलिस ने नहीं दी , श्री तोमर ने यह भी पूछा था की क्या इन 100 स्कूटियों के बाद भी अन्य कोई स्कोटियाँ स्वयं सिद्ध योजना के तहत बढाई गई , इसके जवाब में भी पुलिस कहती है की इसके अलावा कोई नयी स्कूटी नहीं बढ़ाई गई।

अब सवाल उठते हैं की मात्र 3 वर्षों में 58 वाहन कहाँ चले गए , और अगर वह सही हैं तो वह शहर में क्यों नहीं चलाये जा रहे , और क्या महिलाओं के प्रति अपराधों में इतनी कमी आ गई है की बची हुई 58 स्कूटियों की अब ज़रूरत ही नहीं , सवाल यह भी उठता है की वह गई तो गई कहाँ ? ख़राब हो गई ? या यूँ ही कहीं धूल फांक रही हैं , क्या उनका उचित या अलग उपयोग नहीं किया जा सकता। इन कठिन सवालों का जवाब पुलिस को आम लोगों तक पहुंचाना चाहिए।

 944 total views,  2 views today

More Stories

Leave a Reply

Your email address will not be published.

साहित्य-संस्कृति

चर्चित खबरें

You may have missed

Copyright © Noidakhabar.com | All Rights Reserved. | Design by Brain Code Infotech.