नोएडा खबर

खबर सच के साथ

नोएडा : कोनरवा ने सड़क दुर्घटनाओं को रोकने को ई रिक्शा, ऑटो रिक्शा व माल भाड़ा गाड़ियों में रिफ्लेक्टर का मुद्दा उठाया

1 min read

नोएडा, 24 नवम्बर।

कोनरवा के अध्यक्ष पी एस जैन ने नोएडा में सर्दी के इस मौसम में सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिए ऑटो रिक्शा, ई रिक्शा, माल वाहक जुगाड़ रिक्शा व साईकल रिक्शो की पीछे लाईट रिफलेक्टर एवं फरन्ट की लाईट क्रियाशील अनिवार्य किये जाने के सम्बन्ध में पुलिस कमिश्नर, डीसीपी नोएडा व ट्रैफिक पुलिस के अफसरों को पत्र लिखा है।

कोनरवा के पत्र के अनुसार शहर में ऑटो रिक्शा, ई रिक्शा अधिकांशतः रजिस्ट्रेशन नम्बर नही है तथा इनके चालक भी वैध ड्राईविंग लाईसेन्स लेकर नही चला रहे है तथा उन्हे ड्राईविंग की कोई ट्रेनिंग नही है। अतः वे नियमो का भी सही से पालन नही करते है तथा ये किसी भी चौराहे व र्टनिंग पोईन्ट पर खड़े हो जाते है जैसे मेक्स अस्पताल, अट्टा पीर आदि जिससे वाहनो को मुडने व यूटर्न लेने में बहुत असुविधा होती है।

शहर मे आजकल माल वाहक ऑटो रिक्शा (जुगाड़) अधिक मात्रा में चल रहे है। जो न तो पंजिकृत है जबकि उन पर अधिकांशतः उन पर अनाधिकृत रूप से स्कूटर आदि का ईजन लगाया गया है, उनके वाहन पर प्रयाप्त ब्रेक व वाहन को कन्ट्रोल करने की व्यवस्था नही है तथा माल भी वाहन के आगे पिछे कई कई फिट तक बाहर निकला रहता है। जिससे दुर्घटनाओ की समभावना बनी रहती है।

शहर में यातायात व्यव्स्थित करने की आवश्यकता दिन प्रति दिन बढ़ती जा रही है तथा ऑटो रिक्शा, ई रिक्शा, माल वाहक जुगाड़ रिक्शा व साईकल रिक्शो पर पिछले लाईट रिफलेक्टर अधिकांश पर तो लगे नही है या कार्यशील नही है। ये लोग कही भी इन्हे खड़ा कर लेते है, जब चाहे चलते चलते रास्ते में रोक देते है जिससे पिछे से आने वाले वाहनो को हमेशा खतरा बना रहता है। जिससे रात्री के समय ये और भी ज्यादा घातक हो जाते है। क्योकि जब तक ये प्रकाश में नजर आते है तब तक वाहन बहुत नजदीक आ चुका होता है। जिससे दुर्घटना की स्थिति बन जाती है तथा माल वाहक रिक्शो ने नया जुगाड़ बना कर पूर्ण रूप से गैरकानूनी है।

कोनरवा अध्यक्ष ने मांग की है कि इन सभी ऑटो रिक्शा, ई रिक्शा, माल वाहक जुगाड़ रिक्शा व साईकल रिक्शो पर लाईट रिफलेक्टर व फरन्ट लाईट क्रियाशील लगाना अनिवार्य किया जाऐ तथा साईकल रिक्शो में न तो पिछे और न ही फरन्ट पर कोई लाईट व रिफलेक्टर नही होता है। इस से यात्रा करने वाले यात्रीयो भी दुर्घटना होने की सम्भावना बनी रहती है। ऑटो रिक्शो को बड़ै मार्गो पर चलाने के लिए गाईड लाईन जारी की जानी चाहिए क्योकि ये सभी तीन लाईनो को घेर कर ऑटो खड़े कर लेते है जिससे यातायात सूचारू रूप से चल नही पाता है और जाम लगता है। इस पर आवश्यक कार्यवाही करने का कष्ट करे।

 4,311 total views,  2 views today

More Stories

Leave a Reply

Your email address will not be published.

साहित्य-संस्कृति

चर्चित खबरें

You may have missed

Copyright © Noidakhabar.com | All Rights Reserved. | Design by Brain Code Infotech.