नोएडा खबर

खबर सच के साथ

ग्रेटर नोएडा में सीटू नेता पर हमले के विरोध में धरना-प्रदर्शन जारी

1 min read

ग्रेटर नोएडा, 11 जनवरी।

मोनीटो कंपनी पर किसान सभा ने गुरुवार को मजदूरों के समर्थन में प्रदर्शन किया। 4 जनवरी को मजदूर नेता गंगेश्वर दत्त शर्मा पर हमले के बाद से मनीटो कंपनी पर मजदूर लगातार रात दिन के धरने प्रदर्शन पर बैठे हैं।

गौरतलब है कि कंपनी में ठेकेदारी का कार्य कर रही कलिंगा कंपनी के मालिक के बेटे के साथ बाउंसरों और गुंडो ने शांतिपूर्ण धरना प्रदर्शन कर रहे मजदूरों और मजदूर नेता गंगेश्वर दत्त शर्मा पर जानलेवा हमला किया था जिसमें गंगेश्वर दत्त शर्मा को गंभीर चोटें आई थी अभी भी गंगेश्वर दत्त शर्मा बेड रेस्ट पर चल रहे हैं उनकी पसलियों में भारी दर्द है इसके बावजूद पुलिस ने मामूली धाराओं में मुकदमा दर्ज कर मामले को रफा दफा करने की कोशिश की गुंडों का साथ दे रहे दरोगा के खिलाफ भी अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

6 दिन गुजर जाने के बावजूद भी गैर कानूनी रूप से निकाले गए मजदूरों को कंपनी में वापस नहीं लिया है दोषी दरोगा के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई है और दोषी ठेकेदार कंपनी जिसके मालिक के साथ मिलकर गुंडो ने हमला किया था उसका भी ठेका मानीटो कंपनी ने रद्द नहीं किया है इससे मजदूरों में लगातार रोष बढ़ रहा है आज प्रबंधक ने कलिंगा कंपनी के कर्मचारियों को कंपनी में काम करने के लिए जबरदस्ती प्रवेश कराने की कोशिश की धरनारत कर्मचारियों ने जबरदस्त विरोध किया।

किसान सभा की जिला कमेटी के सदस्यों जिला अध्यक्ष डॉ रुपेश वर्मा, सुरेश यादव, मोहित नागर, मोनू मुखिया, सलेक यादव, संयोजक वीर सिंह नागर, एडवोकेट गुरप्रीत एडवोकेट, विनोद भाटी एडवोकेट, देवापाल अवाना, सतीश यादव, दुष्यंत सेन, प्रशांत, विजय यादव, शिशांत भाटी, निशांत रावल, सुधीर रावल, कोषाध्यक्ष अजय पाल भाटी, भोजराज रावल एवं अन्य सैकड़ो लोगों ने कंपनी गेट पर पहुंचकर मजदूरों के समर्थन में नारे लगाए और अवैध रूप से हमलावर कंपनी के कर्मचारियों को फैक्ट्री में प्रवेश करने से रोकने में मदद की मानीटो कंपनी यूनियन के अध्यक्ष फिरोज और महामंत्री संतोष दोनों ने केवल उन्हें कर्मचारियों को प्रवेश की अनुमति दी जो कर्मचारी कंपनी के रोल पर कार्यरत हैं।

इस तरह आज भी कंपनी पूरी तरह बंद रही सूरजपुर थाना अध्यक्ष पुष्पराज एसीपी सुमित शुक्ला डीएलसी एवं अन्य प्रशासनिक अधिकारियों ने मानीटो यूनियन के साथ विवाद को सुलझाने के लिए देर रात तक वार्ता करते रहे देर रात तक कोई समाधान नहीं निकला है किसान सभा के जिला अध्यक्ष ने मजदूरों को संबोधित करते हुए कहा कि हम बहुराष्ट्रीय कंपनी के चलाए जाने के पक्ष में हैं कंपनी चलेगी तो मजदूर की रोजी-रोटी भी चलेगी परंतु कंपनी के भारतीय मैनेजमेंट द्वारा एक लेबर सप्लाई कंपनी को ठेका दिया है इसके प्रमोटर खुद डंडा हाथ में लेकर मजदूरों को पीट रहे हैं इस तरह की गुंडागर्दी करने वाली कंपनी के साथ काम किया जाना संभव नहीं है यदि कंपनी को सुचारू रूप से चलाना है तो कंपनी को गुंडागर्दी करने वाले लोगों को लेबर सप्लाई ठेका नहीं देना चाहिए और कलिंगा कंपनी को ब्लैक लिस्ट करते हुए प्रतिबंधित करना चाहिए जो 31 मजदूर गैर कानूनी रूप से नौकरी से निकाले हैं उन्हें तुरंत वापस लेना चाहिए और 6 तारीख में किसान सभा सहित सभी मजदूर संगठनों ने प्रदर्शन कर मांग उठाई थी की कलिंगा कंपनी के दोषी व्यक्तियों के विरुद्ध गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज हो और गुंडो का साथ दे रहे दरोगा को सस्पेंड किया जाए और उसके विरुद्ध विभागीय कार्रवाई की जाए तब तक ऐसा नहीं होता जब तक हमें धरना प्रदर्शन चलाए रखना है।

 1,941 total views,  2 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published.

साहित्य-संस्कृति

चर्चित खबरें

You may have missed

Copyright © Noidakhabar.com | All Rights Reserved. | Design by Brain Code Infotech.