नोएडा खबर

खबर सच के साथ

-हवन करके की गई सफल लैडिंग की प्रार्थना

नोएडा, 23 अगस्त।

आज का दिन ना केवल एमिटी के लिए बल्कि पूरे देश व विश्व के लिए ऐतिहासिक भरा दिन था जब चंद्रयान 3 की लैडिंग कराके भारत ने विश्व अंतरिक्ष पटल पर नया आयाम रच दिया है। एमिटी विश्वविद्यालय उत्तरप्रदेश के हजारों की संख्या में छात्र, शिक्षक और वैज्ञानिक इस चंद्रयान 3 की सफल लैडिंग के गवाह बनें। इसके अतिरिक्त छात्रों, शिक्षकों द्वारा लगातार दो दिनों से सफल लैडिंग के लिए किये जा रहे हवन मे आहूति देकर प्रार्थना भी की गई।

एमिटी विश्वविद्यालय की वाइस चांसलर डा बलविंदर शुक्ला ने कहा कि आज देश ने अंतरिक्ष के क्षेत्र में नये कीर्तिमान स्थापित किये है और एमिटी के हजारों छात्रों, शिक्षकों और वैज्ञानिक चंद्रयान 3 की सफल लैडिंग के गवाह बने। इस उत्साहवर्धक और गौरवपूर्ण क्षणों को शब्दो में बयान नही किया जा सकता। भारत के लिए चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुवीय क्षेत्र पर सॉफ्ट लैंडिंग करने वाला विश्व का पहला देश बनना अभूतपूर्व ऐतिहासिक क्षण है।

डा शुक्ला ने कहा कि एमिटी के संस्थापक अध्यक्ष डा अशोक कु चौहान का मानना है कि आज के युवा ही कल के देश के निर्माता होगे इसलिए उन्हे इस प्रकार के गौरवपूर्ण पलों का हिस्सा बनना चाहिए इसलिए एमिटी के विभिन्न सभागारों में एमिटी के छात्रों के चंद्रयान 3 के सफल लैंडिंग को दिखाने की व्यवस्था की गई थी। इसके अतिरिक्त एमिटी में लगातार दो दिनों तक हवन का आयोजन किया गया जिसमें छात्रों और शिक्षकों सहित सभी ने आहूति देकर ईश्वर से मिशन चंद्रयान 3 की सफलता के लिए प्रार्थना की।

एमिटी विश्वविद्यालय में आज अकादमिक और शोध क्षेत्र में आपसी सहयोग की संभावनाओं पर विचार करने के लिए यूएसए के कोलोराडों स्टेट विश्वविद्यालय के प्रतिनिधमंडल के तीन सदस्यों ने एमिटी का दौरा किया। इस प्रतिनिधिमंडल में कोलोराडों स्टेट विश्वविद्यालय के कॉलेज ऑफ बिजनेस एंड एकेडमिक प्रोग्राम के सीनियर एसोसिएट डीन डा ट्रैविस मायनार्ड, डायरेक्टर (इंटरनेशनल) श्री स्टीने वरहुसलट और साउथ एशिया की रिजनल एडवाइजर सुश्री मेलिसा टिक्सेरिया शामिल थे। इस प्रतिनिधिमंडल का स्वागत एमिटी गु्रप वाइस चांसलर डा गुरिंदर सिंह ने किया। इस अवसर पर प्रतिनिधमंडल ने भी हवन में आहूति डाल कर भारत की सफलता पर प्रसन्नता जाहिर की।

 9,924 total views,  2 views today

More Stories

Leave a Reply

Your email address will not be published.

साहित्य-संस्कृति

चर्चित खबरें

You may have missed

Copyright © Noidakhabar.com | All Rights Reserved. | Design by Brain Code Infotech.