नोएडा खबर

खबर सच के साथ

गाजियाबाद : केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने जनसँख्या नियंत्रण कानून बनवाने का भरोसा देकर अनिल चौधरी का अनशन तुड़वाया, एम्बुलेंस से हॉस्पिटल में हुए भर्ती

1 min read

गाजियाबाद, 19 नवम्बर।

जनसंख्या समाधान फाउंडेशन के बैनर तले चल रहे राष्ट्रीय अध्यक्ष अनिल चौधरी आमरण अनशन के 22 वें दिन केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह, सांसद राजेन्द्र अग्रवाल , जिलाधिकारी गाजियाबाद और वरिष्ठ अधिकारियों के प्रतिनिधिमंडल ने रविवार को नारियल पानी पिलाकर अनिल चौधरी जी का अनशन तुड़वाया।

जनसंख्या नियंत्रण कानून की मांग पर सहमति बनी, चुनाव के बाद उपयुक्त समय पर प्रक्रिया प्रारम्भ होगी परन्तु लिखित में आश्वासन नहीं। जनसंख्या नियंत्रण कानून की मांग को लेकर 22 दिन से जारी अनिल चौधरी के आमरण अनशन के संबध में प्रधानमंत्री कार्यालय और उत्तर प्रदेश सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों से बातचीत के बाद केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने सांसद राजेन्द्र अग्रवाल जी और जिलाधिकारी गाजियाबाद सहित जिले के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ एक प्रतिनिधिमंडल में रूप में पहुँचकर नारियल पानी पिलाकर अनिल चौधरी का अनशन तुड़वाया !

इस अवसर केन्द्रीय मंत्री गिरिराज ने कहा कि विश्व की कुल भूमि का 2.4 % भाग भारत के पास है और 4 % जल हमारे पास है जबकि विश्व की कुल आबादी का 18% भार हम भारत की भूमि पर वहन कर रहे हैं। विश्व की औसत आबादी क्षेत्रफल के सापेक्ष हमारी आबादी 20 करोड से अधिक नही होनी चाहिए थी जबकि हम 143 करोड की संख्या को पार कर चुके हैं।

श्री गिरिराज सिंह ने आगे कहा कि जनसंख्या असंतुलन भी भारत के समक्ष भी एक समस्या है इसके समाधान के लिए जनसंख्या नियंत्रण कानून बनाना और उसे जाति, धर्म, क्षेत्र और भाषा से ऊपर उठकर सभी नागरिकों पर समान रूप से लागू करना है।

सांसद राजेन्द्र अग्रवाल ने कहा कि वह इस विषय पर जनसंख्या समाधान फाउन्डेशन के साथ हैं और सरकार भी उपयुक्त समय पर जनसंख्या पर नियंत्रण के लिए कदम उठाएगी। ज्ञात रहे कि लाजपत नगर में जारी आमरण अनशन के 16 वें दिन संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनिल चौधरी को प्रधानमंत्री जी के सलाहकार से वार्ता के लिए बुलावा आया था और वह सोमवार 10:30 बजे एम्बुलेंस से अनशन स्थल से रवाना हुए थे और वहां जनसंख्या नियंत्रण कानून की प्रक्रिया पर विस्तृत बातचीत की थी।

इससे पूर्व 10 नवंबर को राष्ट्रीय संयोजक ममता सहगल और नरेन्द्र त्यागी के प्रतिनिधिमंडल ने PMO के अंडर सेक्रेटरी मुकुल दीक्षित के साथ जनसंख्या नियंत्रण कानून की प्रक्रिया पर बातचीत की और इस संबंध में उन्हें विस्तृत डोजियर सौंपा था। उस समय की बातचीत में मुकुल जी का कहना था कि वह इन सभी बिन्दुओं को उच्च स्तर पर रखेंगे। PMO अधिकारियों द्वारा अनिल चौधरी का अनशन तुड़वाने के आग्रह को प्रतिनिधिमंडल ने जनसंख्या नियंत्रण कानून की प्रक्रिया प्रारम्भ होने तक के लिए अस्वीकार कर दिया था।

अनशन तोडते समय जनसंख्या समाधान फाउन्डेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनिल चौधरी ने कहा कि प्रधानमंत्री जी के मुख्य सलाहकार से वार्ता और केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह एवं प्रतिनिधिमंडल की बात से स्पष्ट हो गया है कि हम लोग प्रधानमंत्री जी तक अपनी बात पहुँचाने में सफल रहे हैं।

साथ ही अनिल चौधरी ने कार्यकर्ताओं का आह्वान करते हुए कहा कि यह सफलता का एक पडाव मात्र है आगे की लडाई बहुत बडी है जो कि कानून बनने पर ही खतम होगी। दिसंबर के प्रथम सप्ताह में होने वाली बैठक में संगठन की अगली कार्ययोजना तय की जाएगी।

उन्होने कहा कि मेरा रोम-रोम हर पल साथ खड़े रहने वाले मेरे संगठन के लोगों का ऋणी है और मेरे खून का कण-कण मेरे राष्ट्र और मेरे धर्म के काम आएगा। अनशन टूटने के पश्चात अनिल चौधरी को एम्बुलेंस द्वारा इंदिरापुरम के हीलिंग ट्री हास्पिटल में भर्ती कराया गया है।

इसके बाद दिल्ली-एनसीआर, यूपी, झारखंड, बिहार, असम, उड़ीसा सहित सभी राज्यों के संगठन कार्यकर्ता अपने-अपने घरों की ओर निकल गए।

 10,344 total views,  2 views today

More Stories

Leave a Reply

Your email address will not be published.

साहित्य-संस्कृति

चर्चित खबरें

You may have missed

Copyright © Noidakhabar.com | All Rights Reserved. | Design by Brain Code Infotech.