नोएडा खबर

खबर सच के साथ

यमुना सिटी, 15 दिसम्बर।

उत्तरप्रदेश के मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र द्वारा यमुना प्राधिकरण क्षेत्र में औद्योगिक सेक्टरों यथा सेक्टर 28, 29, 32 तथा 33 का दौरा किया गया। यमुना प्राधिकरण द्वारा देश के सबसे बड़े मेडिकल डिवाइस पार्क के अंतर्गत सेक्टर 28 विकसित किए जा रहे हैं। इस दौरान विकास एवं निर्माण कार्यों की भौतिक समीक्षा की गई।

उल्लेखनीय है कि यह मेडिकल डिवाइस पार्क 350 एकड़ क्षेत्र में प्राधिकरण द्वारा विकसित किया जा रहा है। इस मेडिकल डिवाइस पार्क में भारत सरकार द्वारा भी पूरा सहयोग प्राधिकरण को दिया जा रहा है। मेडिकल डिवाइस पार्क के अंतर्गत प्राधिकरण द्वारा अभी तक 74 कंपनियों को भूखंड आवंटित किए जा चूके हैं। इस क्षेत्र में प्राधिकरण द्वारा विभिन्न सीएफसी फैसिलिटीज़ के बिल्डिंग का निर्माण कार्य कराया जा रहा है। जिनमें मुख्यता थ्री डिजाइन, रैपिड प्रोटोटाइप एंड टेस्टिंग फसिलिटी, इलेक्ट्रॉनिक असेंबली फेसिलिटी, ऐड्मिनिस्ट्रेटिव एंड ऑफिस ब्लॉक, एक्सपोर्ट एंड प्रमोशन इन्क्यूबेशन सेंटर, सेंटर फॉर एक्सीलेंस स्किल डेवलपमेंट एंड इनक्यूबेशन सेंटर सहित कई अन्य विश्व स्तरीय फैसिलिटीज़ प्रदान की जायेंगी।

मुख्य सचिव ने मेडिकल डिवाइस पार्क के विकास पर संतोष ज़ाहिर किया गया। मेडिकल डिवाइस पार्क के साथ साथ मुख्य सचिव को अपैरल पार्क क्लस्टर, सेक्टर 32 व सेक्टर 33 के क्लस्टर के निर्माण कार्यों उससे अवगत कराया गया। मुख्य सचिव द्वारा सेक्टर 32 में स्थापित सूर्य ग्लोबल कंपनी के प्लांट का भ्रमण भी किया गया। प्लांट पर प्रिया गोल्ड ग्रुप के निदेशकों यथा श्री शेखर अग्रवाल अग्रवाल जी द्वारा मुख्य सचिव महोदय का स्वागत किया गया तथा प्लांट में किया जा रहा है उत्पादों तथा मशीनरी के संबंध में मुख्य सचिव को अवगत कराया गया।

मुख्य सचिव द्वारा साईट विजिट के बाद यमुना एक्सप्रेसवे प्राधिकरण के कार्यालय में प्राधिकरण के विकास कार्यों की समीक्षा की गयी। मुख्य कार्यपालक अधिकारी द्वारा प्रस्तुतीकरण में मास्टर प्लान 2041 के संबंध में जानकारी दी गयी। प्राधिकरण की नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट ज़ेवर को चोला रेलवे स्टेशन तक जोड़ने की योजना के संबंध में अवगत कराया साथ ही प्राधिकरण की वित्तीय स्थिति व प्राधिकरण द्वारा चलायी गयी योजनाओं की जानकारी भी दी गयी। साथ ही मथुरा में हेरिटेज सिटी व अलीगढ़ में लॉजिस्टिक पार्क योजनाओं हेतु किए जा रहे प्रयासों से भी अवगत कराया। मुख्य सचिव द्वारा निर्देशित किया गया कि इंडस्ट्रियल सेक्टर में साथ साथ वर्कर्स के लिये आवास का भी प्रोविजन किया जाये

मुख्य सचिव के निरीक्षण के दौरान मुख्य कार्यपालक अधिकारी डॉ अरुण वीर सिंह सहित सहित ज़िलाधिकारी श्री मनीष वर्मा, अपर मुख्य कार्यपालक अधिकारी श्रीमती श्रुति, अपर मुख्य कार्यपालक अधिकारी श्री कपिल सिंह, अपर मुख्य कार्यपालक अधिकारी श्री विपिन जैन, विशेष कार्याधिकारी श्री शैलेंद्र भाटिया, विशेष कार्याधिकारी श्री शैलेंद्र कुमार सिंह, श्री एके सिंह महा प्रबंधक प्रोजेक्ट, श्री नंदकिशोर सुन्दरियाल स्टाफ ऑफिसर, श्री राजेंद्र भाटी डीजीएम प्रोजेक्ट, श्री मेहराम सिंह विशेष कार्याधिकारी सहित यमुना एक्सप्रेसवे प्राधिकरण तथा विकासकर्ता एजेंसी के अधिकारी मौजूद रहे।

 8,279 total views,  2 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published.

साहित्य-संस्कृति

चर्चित खबरें

You may have missed

Copyright © Noidakhabar.com | All Rights Reserved. | Design by Brain Code Infotech.