नोएडा खबर

खबर सच के साथ

दादरी के निकट रेलवे की पटरी पर मिला था अज्ञात शव, पुलिस ने खोला राज, तीन हत्यारे गिरफ्तार

1 min read

 

गौतमबुद्धनगर, 8 मार्च।

थाना दादरी पुलिस द्वारा हत्या की घटना का सफल अनावरण करते हुए हत्या करने वाले 03 अभियुक्त गिरफ्तार किये गए। अभियुक्तों से पूछताछ के बाद पुलिस ने उनके कब्जे से मृतक के कपडो का बैग, मृतक की पैन्ट व शर्ट, मृतक का आधार कार्ड, मृतक की डायरी, मृतक को दिये गये जहरीले पदार्थ का शेष पाऊडर व एक रक्त रंजित गर्म चद्दर बरामद की।

पुलिस मीडिया सेल से मिली जानकारी के अनुसार दिनांक 28/01.03.2022 की रात्रि मे अज्ञात व्यक्तियों द्वारा हत्या कर एक अज्ञात व्यक्ति के शव को रूपवास गोल चक्कर के पास रेलवे लाइन पर पत्थर से सिर व चेहरे पर चोट पहुँचा कर हत्या कर रेलवे ट्रेक पर डाला गया था। दादरी पुलिस के द्वारा इस प्रकरण मे थाना पर मुकदमा अपराध संख्या 126/2022 धारा 302 भादवि अंकित किया गया था। इसके पश्चात मृतक अज्ञात की शिनाख्त के तमाम प्रयास करने के फलस्वरूप मृतक की शिनाख्त संजीव उर्फ संजू पुत्र श्री ओमपाल यादव नि0 ग्राम सराय पस्तो, थाना दातागंज, बदायू उम्र 28 वर्ष के रूप मे होने के पश्चात हत्या का सफल अनावरण करते हुए हत्या मे शामिल 03 अभियुक्तों में से दो अभियुक्त क्रमशः 1. सत्यप्रकाश पुत्र ब्रजपाल 2. कल्लू पुत्र ब्रजपाल निवासीगण सराय पस्तोर, थाना दातागंज, जिला बदांयू को दिनाँक 08.03.2022 को पैरिफेरल अन्डर जीटी रोड से तथा तीसरे अभियुक्त 03. ब्रजपाल पुत्र बुलाकी राम नि0 सराय पस्तोर थाना दातागंज, जिला बदांयू, को दादरी रेलवे स्टेशन के पास से गिरफ्तार किया गया है।

ऐसे घटना को दिया अंजाम, अभियुक्तों ने कोशिश की कि शिनाख्त ना हो

पूछताछ पर जानकारी हुई कि अभियुक्त सत्यप्रकाश व कल्लू तथा मृतक एक ही गांव के रहने वाले है। दोनों का पडोस मे घर है। सत्यप्रकाश व कल्लू का सगा छोटा भाई जसबीर मृतक संजीव का अच्छा दोस्त था जिसके पास संजीव का काफी आना जाना था। जिसके अवैध सम्बन्ध जसबीर के भाई ओमशरण की पत्नी से हो गये थे। जिसकी जानकारी जसबीर को होने पर जसबीर ने संजीव को समझाया था। 05 फरवरी 2022 को गांव सराय पस्तोर मे ही संजीव व जसबीर व इनके धर्मेन्द्र व गंगा प्रसाद ने साथ-साथ शराब पी थी। उसी दिन जसबीर की मृत्यु हो गयी थी तभी से जसबीर के भाई सत्यप्रकाश व कल्लू तथा पिता ब्रजपाल यह विश्वास कर रहे थे कि जसबीर को शराब मे कुछ मिलाकर संजीव ने मार दिया है। परन्तु इस बात की कोई शिकायत पुलिस को नही की गयी थी व जसबीर का अन्तिम संस्कार कर दिया गया था तभी से इन तीनों लोगो ने संजीव उर्फ संजू को मारने की प्लानिंग बना दी थी। अभियुक्त कल्लू व सत्यप्रकाश ने इस योजना को अपने गांव के रिश्ते के मामा नरेन्द्र पुत्र मुन्ना लाल को भी बता दिया था व दिनांक 28.02.2022 को सत्यप्रकाश ने संजीव को कॉल करके तिलपता से दादरी दावत के बहाने बुलाकर अपने साथी नरेन्द्र व कल्लू की मदद से शराब मे जहर मिलाकर रूपवास गोल चक्कर के पास रेलवे लाईन पर ले जाकर पत्थर से हमला कर जान से मार दिया था एवं शव को रेलवे ट्रेक पर इस उद्देशय से रख दिया था कि ट्रेन आने पर मृतक की मौत ट्रेन से कटकर होना साबित हो जायेगी परन्तु ट्रेन आने से पहले ही दादरी पुलिस को सूचना हो गयी व शव को कब्जे मे लेकर आवश्यक कार्यवाही की गयी तथा सोशल मीडिया व दीवारो पर पोस्टर चस्पा कर मृतक की शिनाख्त के अथक प्रयास किये गये जिसके परिणाम स्वरूप मृतक की शिनाख्त हुई एवं तीन अभियुक्तो की गिरफ्तारी की गयी। एक अन्य अभियुक्त नरेन्द्र अभी फरार है जिसकी गिरफ्तारी हेतु टीमे गठित कर दी गयी है। पकडे गये अभियुक्त सत्यप्रकाश की निशादेही से बचा हुआ जहरीला पाऊडर व मृतक के कपडो का बैग एवं रक्त रंजित गर्म चद्दर तथा आधार कार्ड आदि बरामद किये गये है।

अभियुक्तों का विवरण

1.सत्यप्रकाश पुत्र ब्रजपाल नि0 सराय पस्तोर थाना दातागंज जिला बदांयू।
2.कल्लू पुत्र ब्रजपाल नि0 सराय पस्तोर थाना दातागंज जिला बदांयू।
3.ब्रजपाल पुत्र बुलाकी राम नि0 सराय पस्तोर थाना दातागंज जिला बदांयू।

अभियोग का विवरण

मु0अ0सं0 126/2022 धारा 302/328/120बी/34/201 भादवि थाना दादरी, गौतमबुद्धनगर।

बरामदगी का विवरण

1.मृतक के कपडो का बैग
2.मृतक की पैन्ट व शर्ट
3.मृतक का आधार कार्ड
4.मृतक की डायरी
5.मृतक को दिये गये जहरीले पदार्थ का शेष पाऊडर
6.एक रक्त रंजित गर्म चद्दर

 3,111 total views,  2 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published.

साहित्य-संस्कृति

चर्चित खबरें

You may have missed

Copyright © Noidakhabar.com | All Rights Reserved. | Design by Brain Code Infotech.