नोएडा खबर

खबर सच के साथ

नोएडा प्राधिकरण के सीईओ डॉ लोकेश एम ने सभी वर्क सर्किल से अधिसूचित क्षेत्र में अतिक्रमण और अवैध निर्माण की रिपोर्ट मांगी

1 min read

नोएडा, 25 अक्टूबर।

नोएडा प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालक अधिकारी डॉ लोकेश एम ने बुधवार कक सभी अपर मुख्य कार्यपालक अधिकारियों की उपस्थिति में सभी वर्क सर्किल तथा जन स्वास्थ्य विभाग द्वारा किए जा रहे कार्यों की समीक्षा की गई। बैठक का मुख्य उद्देश्य पूर्व में दिये गये निर्देशों के अनुपालन क्षेत्र की साफ़ सफाई को लेकर सभी विभागों द्वारा कृत कार्यवाही, GRAP लागू होने के उपरांत संबंधित क्षेत्रों में निर्माण कार्यों तथा GRAP प्रावधानों के उल्लंघन पर लगायी जाने वाली अधिरोपित पेनल्टी तथा उसकी रिकवरी हेतु कार्यवाही की समीक्षा थी।

सीईओ डॉ लोकेश एम ने शहर में धूल तथा कूड़े के प्रति zero tolerance की नीति पर जोर देते हुए सभी संबंधितों को इसी में अनुसार कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया। सीईओ द्वारा वर्क सर्किल वार सभी बिंदुओं पर संबंधित वरिष्ठ प्रबंधक द्वारा कृत कार्यवाही का संज्ञान लिया गया। वर्क सर्किल 03 के वरिष्ठ प्रबंधक द्वारा बिना पूर्व सूचना के अवकाश पर जाने पर रोष प्रकट करते हुए प्रतिकूल प्रविष्टि तथा अग्रिम आदेशों तक वेतन रोके जाने के आदेश दिये गये। इसके अतिरिक्त वर्क सर्किल 01 द्वारा औद्योगिक सेक्टरों हेतु आयोजित समाधान दिवस में दिये गये निर्देशों तथा इसके बाद जारी निर्देशों के अनुपालन में साफ़ सफ़ाई तथा सेक्टर के अनुरक्षण में अपेक्षित सुधार ना होने पर चेतावनी जारी करते हुए संबंधित प्रबंधक को शिथिल पर्यवेक्षण तथा कार्यप्रणाली के कारण निलंबन हेतु नोटिस जारी करने के निर्देश जारी किये गए।

पुलिस के अनुसार 3 अक्टूबर 2023 को वर्क सर्किल 08 के अन्तर्गत आयोजित समाधान दिवस में दिये गये निर्देश के उपरांत भी एडवांट बिल्डिंग के आस पास क्षेत्र में रोड की मरम्मत एवं साफ़ सफ़ाई ना किए जाने पर संबंधित वर्क सर्किल के प्रति रोष प्रकट करते हुए तत्काल सुधारात्मक कार्रवाई किए जाने हेतु निर्देशित किया गया। वर्क सर्किल अपने क्षेत्र की समस्याओं के प्रति अधिक संवेदनशील बने, इस उद्देश्य से महोदय द्वारा अपर मुख्य कार्यपालक अधिकारी (एस ० के ) को सभी वर्क सर्किल के कार्यालय उनके क्षेत्र में ही स्थापित किए जाने की कार्ययोजना बनाने हेतु कहा गया।

इसके अतिरिक्त नोएडा क्षेत्र की अधिसूचित भूमि पर हो रहे में अतिक्रमण एवं अनधिकृत निर्माण पर भी सभी वर्क सर्किल द्वारा की गई कार्यवाही की समीक्षा की गई तथा निर्देश दिये गये कि सभी वर्क सर्किल द्वारा निर्मित रूप से इस पर रोक लगायी जाये। अपर मुख्य कार्यपालक अधिकारी (एसके ) को एक प्रारूप बनाने हेतु कहा जिसमें सभी वर्क सर्किल द्वारा आगे से रिपोर्ट प्रस्तुत की जायेगी एवं उनके द्वारा अतिक्रमण एवं अनधिकृत निर्माण के ख़िलाफ़ की गई कार्यवाही की समीक्षा की जाएगी।

01 अक्तूबर से GRAP प्रावधानों के अन्तर्गत के जा रही कार्यवाही के अन्तर्गत सीईओ को अवगत कराया गया कि प्राधिकरण द्वारा गठित टीमों के द्वारा पूरे नोएडा क्षेत्र का दौरा नियमित दौरा किया जा रहा है जिसमें वर्तमान तिथि तक GRAP प्रावधानों के उल्लंघन के कुल 171 प्रकरण पाये गए हैं जिनमे लगभग रू 43 लाख की पेनल्टी अधिरोपित की गई है। महोदय द्वारा वित्त नियंत्रक को निर्देशित किया गया कि वे सभी संबंधित

विभागों से समन्वय करते हुए अधिरोपित पेनल्टी तथा उसकी आज तक की गई रिकवरी की रिपोर्ट प्रस्तुत करें। सभी वर्क सर्किल अवशेष पेनल्टी की रिकवरी 01 सप्ताह के अंतर्गत सुनिश्चित करें।

डेंगू के बढ़ते मामलों के दृष्टिगत जन स्वास्थ्य विभाग तथा सभी वर्क सर्किल को नोएडा क्षेत्र में सघन फोगिंग हेतु निर्देशित किया गया। उनके द्वारा ऐसे स्थान चिन्हित भी करने हेतु निर्देश दिये जहां डेंगू से संबंधित केस ज़्यादा पाये जा रहे हैं, जिससे ऐसे स्थलों पर विशेष रूप से डेंगू की रोक थाम हेतु प्रबंध किए जा सकें। उनके द्वारा नोएडा क्षेत्र की सभी बड़े नाले / नालियों की सफ़ाई के निर्देश दिये गये जिससे नियमित रूप से उनमें फ्लोटिंग मटेरियल तथा सिल्ट की सफ़ाई की जा सके। सभी ऐसे क्षेत्र जहां सघन वृक्षारोपण / झाड़ियाँ हैं वहाँ उद्यान विभाग संबंधित विभागों के सहयोग से कटाई छटाई सुनिश्चित करे। जन स्वास्थ्य विभाग को निर्देशित किया गया कि वे सुनिश्चित करें कि सभी सफ़ाई कर्मी कार्यस्थल पर proper gear (मास्क / जैकेट / boots) में ही कार्य करें।

क्षेत्र के अंतर्गत आवरा कुत्तों के प्रकोप के दृष्टिगत उनके स्टेरिलिज़ेशन हेतु किए जा रहे प्रयासों की भी समीक्षा की गई तथा कार्य में शिथिलता हेतु एनिमल शेल्टर संचालन करने वाली संस्था को ब्लैक लिस्ट करने हेतु निर्देशित किया गया।सीईओ द्वारा समय समय पर शहर के सौंदर्यीकरण हेतु निर्देश जारी किए गए हैं। वाणिज्यिक सेक्टरों के पुनरुद्धार हेतु कार्ययोजना के अन्तर्गत प्रयोगात्मक रूप से सेक्टर 29 स्थित ब्रह्मपुत्र मार्केट में किए जा रहे कार्यों का संज्ञान लिया जिसमें पूरे मार्केट में यूनिफार्म लाइटिंग, यूनिफार्म बोर्ड, लटकती हुई तारों हेतु समुचित प्रावधान, अवांछित ब्लैक स्पॉट्स, टाइल्स ठीक करने तथा वाटर हार्वेस्टिंग के लिये किये गये प्रावधानों की समीक्षा की गई। सीईओ द्वारा सभी वर्क सर्किल से अपने क्षेत्रों में वाणिज्यिक सेक्टर की कार्यायोजना प्रस्तुत करने के निर्देश दिये गये ।

 7,432 total views,  2 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published.

साहित्य-संस्कृति

चर्चित खबरें

You may have missed

Copyright © Noidakhabar.com | All Rights Reserved. | Design by Brain Code Infotech.