नोएडा खबर

खबर सच के साथ

दिल्ली में राजघाट से चारों तरफ 100 किलोमीटर तक होगी एन सी आर की बाउंड्री, ड्राफ्ट रीजनल प्लान 2041 मंजूर

1 min read

नई दिल्ली 13 अक्टूबर।

केंद्र सरकार ने एनसीआर का दायरा अब 100 किलोमीटर कर दिया है यह अभी तक 150 से 175 किलोमीटर तक था अब राजघाट से चारों ओर 100 किलोमीटर के दायरे में आने वाले शहर या गांव एनसीआर की सीमा में आएंगे ।

एनसीआर का फोकस गुरुग्राम फरीदाबाद नोएडा ग्रेटर नोएडा गाजियाबाद मेरठ शहर होगा ।इस योजना में 4 राज्यों के 25 जिले शामिल किए गए हैं अभी एनसीआर के बाहर ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेसवे और वेस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे काम कर रहा है इससे दिल्ली में वाहनों की संख्या नियंत्रित करने में मदद मिली है। हेवी ट्रैफिक इस एक्सप्रेस वे से गुजर रहा है।

एनसीआर के चारों तरफ दो नए एक्सप्रेस वे बनेगे

आने वाले दिनों में सर्कुलर एक्सप्रेसवे होगा जो पानीपत, शामली, मेरठ, जेवर, नूह ,भिवाड़ी, रेवाड़ी, झज्जर, रोहतक व पानीपत को जोड़ेगा। दूसरा एक्सप्रेसवे करनाल, मुजफ्फरनगर, गढ़मुक्तेश्वर, नरोरा, अलीगढ़, मथुरा ,डीग,  अलवर, महेंद्रगढ़, चरखी दादरी, भिवानी, कैथल और करनाल को जोड़ेगा। इस समय  एन सी आर में उत्तर प्रदेश में 8 जिले, हरियाणा के 14 जिले, राजस्थान के 2 जिले और पूरी दिल्ली मिलाकर 55083 वर्ग किलोमीटर का क्षेत्र एनसीआर प्लानिंग बोर्ड में आता है। केंद्रीय शहरी विकास मंत्री हरदीप पुरी की अध्यक्षता में हुई समिति ने ड्राफ्ट रीजनल प्लान 2041 को मंगलवार को मंजूरी दे दी और अनुमान लगाया गया है 2031 तक एनसीआर की आबादी 7 करोड़ व 2041 तक 11 करोड़ होगी।

एन सी आर को झुग्गी मुक्त क्षेत्र बनाने का संकल्प

पूरे एनसीआर को झुग्गी मुक्त करने और स्मार्ट बनाने की योजना का जल्द ही केंद्र सरकार मसौदा तैयार कर इसे सार्वजनिक करेगी एनसीआर के शहरों को सड़क रेल और जल मार्ग से आर्थिक रूप से संपन्न बनाया जाएगा यहां की पूरी आधारभूत संरचना नागरिक केंद्रित होगी पूरे एनसीआर में यात्रा का समय – अहम है तय किया गया है कि बुलेट ट्रेन हेलिटैक्सी से एक से दूसरे शहर में 30 मिनट ट्रेनों से 60 मिनट के अंदर और 3 घण्टे में कार से यात्रा पूरी होगी। पूरे एनसीआर को विश्व स्तरीय बनाने के लिए हर जिले में हेलीपोर्ट एयरपोर्ट बनाए जाएंगे हर जिला मुख्यालय में पर्यटन केंद्रों पर हेलिटैक्सी की सेवा मिलेगी। इस बैठक में हरियाणा के सीएम मनोहर लाल दिल्ली के शहरी विकास मंत्री सत्येंद्र जैन राजस्थान के शहरी विकास मंत्री शांति कुमार धारीवाल यूपी खादी ग्रामोद्योग और एम एस एम ई मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह के अलावा कई वरिष्ठ अधिकारी शामिल हुए।

 9,331 total views,  2 views today

More Stories

Leave a Reply

Your email address will not be published.

साहित्य-संस्कृति

चर्चित खबरें

You may have missed

Copyright © Noidakhabar.com | All Rights Reserved. | Design by Brain Code Infotech.